Friday, September 21, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

प्रदेश में तकनीकी शिक्षा हुई महंगी, छात्रों को करनी होगी जेब ज्यादा ढीली

अंग्वाल न्यूज डेस्क
प्रदेश में तकनीकी शिक्षा हुई महंगी, छात्रों को करनी होगी जेब ज्यादा ढीली

देहरादून। उत्तराखंड में अब तकनीकी शिक्षा और महंगी हो गई है। राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) में नेशनल काउंसिल फॉर वोकेशनल ट्रेनिंग के तहत संचालित ट्रेडों में प्रवेश को आवेदन फॉर्म खरीदने के लिए छात्रों को इस बार जेब ज्यादा ढीली करनी होगी। सामान्य और ओबीसी वर्ग से ताल्लुक रखने वाले उम्मीदवारों को आवेदन फाॅर्म लेने के लिए जहां 200 रुपये देने होंगे वहीं आरक्षित वर्गों के छात्रों को 50 रुपये अधिक देने होंगे। ऐसे में अब गरीब छात्रों की परेशानियां थोड़ी बढ़ गई हैं। 

गौरतलब है कि प्रदेश भर के करीब 147 राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) में नेशनल काउंसिल फॉर वोकेशनल ट्रेनिंग (एनसीवीटी) और स्टेट काउंसिल फॉर वोकेशनल ट्रेनिंग (एससीवीटी) के तहत नॉन टेक्निकल और टेक्निकल ट्रेड संचालित किए जाते हैं। ऐसे में यहां तकनीकी शिक्षा हासिल करने वाले छात्रों की एक बड़ी संख्या है। इन राजकीय संस्थानों से तकनीकी शिक्षा संस्थान में दाखिला लेने की प्रक्रिया मई-जून में शुरू होती है लेकिन 2018-19 के लिए एनसीवीटी में दाखिले की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। 

आपको बता दें कि आवेदन फॉर्म प्राप्त करने की तिथि 9 अप्रैल से 15 मई तक निर्धारित की गई है लेकिन इस साल आईटीआई में एनसीवीटी ट्रेडों के तहत संचालिक ट्रेडों में प्रवेश के लिए आवेदन फार्म के शुल्क में बढ़ोतरी की गई है। अभी तक यहां से आवेदन फाॅर्म लेने के लिए सामान्य व ओबीसी श्रेणी के छात्रों को 500 रुपये देने होते थे लेकिन अब उन्हें 700 रुपये देने होंगे जबकि एससी, एसटी श्रेणी के छात्रों को आवेदन फॉर्म इस साल 300 के बजाय 350 रुपये में मिलेगा।

2012-13    350 रुपये    175 रुपये

2013-14    425 रुपये    250 रुपये

2014-15    425 रुपये    250 रुपये


2015-16    500 रुपये    300 रुपये

2016-17    500 रुपये 300 रुपये

2017-18    500 रुपये 300 रुपये

2018-19    700 रुपये    350 रुपये

इन ट्रेडों का संचालन टर्नर, फिटर, मशीनिस्ट, इलेक्ट्रीशियन, वायरमैन, ड्राफ्टमैन सिविल, मैकेनिक मोटर व्हीकल, मैकेनिक डीजल, प्लंबर, सर्वेयर , आशुलिपिक हिंदी, स्वीइंग टेक्नोलॉजी।

पंडित जनार्दन जोशी राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में एनसीवीटी के तहत कटिंग स्वीइंग टेक्नोलॉजी ट्रेड संचालित है। इस ट्रेड में 21 सीटें हैं लेकिन अभी तक दो ही आवेदन फॉर्म खरीदे गए हैं।   

Todays Beets: