Friday, November 16, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

स्कीइंग, राफ्टिंग व रॉक क्लाइंबिंग जैसे साहसिक खेलों के जरिए सुरक्षा बलों व पुलिस को दिया जा रहा प्रशिक्षण 

अंग्वाल संवाददाता
स्कीइंग, राफ्टिंग व रॉक क्लाइंबिंग जैसे साहसिक खेलों के जरिए सुरक्षा बलों व पुलिस को दिया जा रहा प्रशिक्षण 

देहरादून । आईटीबीपी द्वारा टिहरी झील के निकट साहसिक खेल संस्थान खोलने हेतु राज्य सरकार द्वारा भूमि आवंटन को लेकर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत तथा उपमहानिरीक्षक तथा प्रधानाचार्य पर्वतारोहण एवं स्कीइंग संस्थान आइटीबीपी औली गंभीर सिंह चैहान के मध्य शनिवार को मुख्यमंत्री आवास पर विस्तृत चर्चा की गई। उपमहानिरीक्षक तथा प्रधानाचार्य पर्वतारोहण एवं स्कीइंग संस्थान आइटीबीपी औली गंभीर सिंह चैहान ने कहा कि आइटीबीपी का उत्तराखंड से अटूट रिश्ता रहा है। आईटीबीपी साहसिक खेलों में अपना विशिष्ट स्थान बना चुका है। उन्होंने बताया कि पर्वतारोहण एवं स्कीइंग संस्थान आईटीबीपी, औली, जोशीमठ द्वारा पर्वतारोहण, स्कीइंग, राफ्टिंग एवं रॉक क्लाइंबिंग जैसे जोखिम भरे साहसिक खेलों में सुरक्षा व पुलिस बलों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। 

इस दौरान गंभीर सिंह चैहान ने बताया की टिहरी झील के निकट साहसिक खेल संस्थान खोलने से क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा तथा स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। इस साहसिक खेल संस्थान के माध्यम से आपदा के समय रेस्क्यू संबंधित कार्यों में स्थानीय प्रशासन को मदद मिलेगी तथा इसके साथ ही क्षेत्र के युवाओं का रुझान भी आईटीबीपी तथा साहसिक खेलों के प्रति बढ़ेगा।


मुख्यमंत्री रावत ने फोन पर जिलाधिकारी टिहरी को इस संबंध में उचित कार्यवाही के निर्देश दिए तथा आइटीबीपी को राज्य सरकार की ओर से हर संभव सकारात्मक सहयोग का आश्वासन दिया।

Todays Beets: