Monday, May 21, 2018

Breaking News

   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||   बिहार: शराब और मुर्गे के साथ गश्त करने वाली पुलिस टीम निलंबित     ||

मुख्यमंत्री ने जौलजीबी मेले का किया शुभारंभ, भारत-नेपाल की साझी विरासत को आगे बढ़ाने की कवायद

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुख्यमंत्री ने जौलजीबी मेले का किया शुभारंभ, भारत-नेपाल की साझी विरासत को आगे बढ़ाने की कवायद

देहरादून। भारत और नेपाल के बीच की संस्कृति को आगे बढ़ाने वाले मेले और उत्सवों को बढ़ाने के लिए उत्तराखंड सरकार पूरी कोशिश कर रही है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने उत्तराखंड और नेपाल के बीच वर्षों से चले आ रहे जौलजीबी मेले का उद्घाटन किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मेला दोनों राष्ट्रों के बीच सांस्कृतिक विरासत को बढ़ाने का काम करता है। सरकार इस तरह के मेलों और अन्य आयोजनों को आगे लाने में पूरा सहयोग करेगी।

सांस्कृतिक विरासत को आगे बढ़ाएगी

गौरतलब है कि काली और गोरी नदी के किनारे लगने वाले इस मेले में उत्तराखंड और नेपाल के व्यापारी अपने-अपने सामानों को बेचते हैं। सीएम ने लोगों से कहा कि नदी के संगम तट पर आयोजित यह मेला भारत और नेपाल के आपसी संबंधों को भी मजबूत करता है। बता दें कि उत्तराखंड और नेपाल के बीच बेटी और रोटी का संबंध रहा है। उसी तरह यह मेला दोनों देशों की साझी संस्कृति  को आगे बढ़ाने में अपना योगदान देता आ रहा है। सीएम ने कहा कि सरकार मेलों, महोत्सवों को लोक संस्कृति के संरक्षण के लिए महत्वपूर्ण अवसर समझती है। 

ये भी पढ़ें - पौड़ी का सुरजीत इसरो में बना वैज्ञानिक, सेल्फ स्टडी करने वालों के लिए बने मिसाल


सरकार का प्रोत्साहन

आपको बता दें कि जौलजीबी मेले में उत्तराखंड सरकार के विभिन्न विभाग भी अपने-अपने स्टाॅल लगाती है। इनमें यहां के हैंडीक्राफ्ट और खाने के सामानों को रखा जाता है। सीएम ने उन स्टाॅल्स का भी निरीक्षण किया। इस मेले में दोनों देशों के सीमांत इलाकों से लोग खरीदारी करने आते हैं।  

Todays Beets: