Thursday, August 16, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

मुख्यमंत्री ने जौलजीबी मेले का किया शुभारंभ, भारत-नेपाल की साझी विरासत को आगे बढ़ाने की कवायद

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुख्यमंत्री ने जौलजीबी मेले का किया शुभारंभ, भारत-नेपाल की साझी विरासत को आगे बढ़ाने की कवायद

देहरादून। भारत और नेपाल के बीच की संस्कृति को आगे बढ़ाने वाले मेले और उत्सवों को बढ़ाने के लिए उत्तराखंड सरकार पूरी कोशिश कर रही है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने उत्तराखंड और नेपाल के बीच वर्षों से चले आ रहे जौलजीबी मेले का उद्घाटन किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मेला दोनों राष्ट्रों के बीच सांस्कृतिक विरासत को बढ़ाने का काम करता है। सरकार इस तरह के मेलों और अन्य आयोजनों को आगे लाने में पूरा सहयोग करेगी।

सांस्कृतिक विरासत को आगे बढ़ाएगी

गौरतलब है कि काली और गोरी नदी के किनारे लगने वाले इस मेले में उत्तराखंड और नेपाल के व्यापारी अपने-अपने सामानों को बेचते हैं। सीएम ने लोगों से कहा कि नदी के संगम तट पर आयोजित यह मेला भारत और नेपाल के आपसी संबंधों को भी मजबूत करता है। बता दें कि उत्तराखंड और नेपाल के बीच बेटी और रोटी का संबंध रहा है। उसी तरह यह मेला दोनों देशों की साझी संस्कृति  को आगे बढ़ाने में अपना योगदान देता आ रहा है। सीएम ने कहा कि सरकार मेलों, महोत्सवों को लोक संस्कृति के संरक्षण के लिए महत्वपूर्ण अवसर समझती है। 

ये भी पढ़ें - पौड़ी का सुरजीत इसरो में बना वैज्ञानिक, सेल्फ स्टडी करने वालों के लिए बने मिसाल


सरकार का प्रोत्साहन

आपको बता दें कि जौलजीबी मेले में उत्तराखंड सरकार के विभिन्न विभाग भी अपने-अपने स्टाॅल लगाती है। इनमें यहां के हैंडीक्राफ्ट और खाने के सामानों को रखा जाता है। सीएम ने उन स्टाॅल्स का भी निरीक्षण किया। इस मेले में दोनों देशों के सीमांत इलाकों से लोग खरीदारी करने आते हैं।  

Todays Beets: