Sunday, July 22, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

त्रिवेन्द्र रावत तोड़ेंगे ‘हरदा’ का रिकाॅर्ड, टिहरी झील के किनारे करेंगे कैबिनेट की बैठक

अंग्वाल न्यूज डेस्क
त्रिवेन्द्र रावत तोड़ेंगे ‘हरदा’ का रिकाॅर्ड, टिहरी झील के किनारे करेंगे कैबिनेट की बैठक

देहरादून। गैरसैंण में मंत्रिमंडल की बैठक आयोजित करने के बाद अब प्रदेश सरकार ने एक और बैठक राजधानी से बाहर करने का फैसला लिया है। राज्य में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने टिहरी झील के किनारे कैबिनेट बुलाने का फैसला किया है। बता दें कि ऐसा आठवीं बार होगा जब प्रदेश सरकार राजधानी से बाहर कैबिनेट की बैठक करेगी। हालांकि अभी बैठक को लेकर तारीखों का ऐलान नहीं किया गया है लेकिन टिहरी महोत्सव से पहले कैबिनेट वहां पहुंचेगी।

गौरतलब है कि राजधानी से बाहर कैबिनेट की बैठक आयोजित करने का सिलसिला भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री डाॅक्टर रमेश पोखरियाल निशंक ने 2011 में की थी। उन्होंने हरिद्वार में हर की पैड़ी पर कैबिनेट की बैठक का आयोजन किया था। इसके बाद कांग्रेस के तत्कालीन मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने 2012 में गैरसैंण में कैबिनेट की बैठक का आयोजन किया था। 

ये भी पढ़ें - बाॅलीवुड के बाद दक्षिण भारत के बड़े अभिनेता भी करेंगे प्रदेश में शूटिंग, सीएम ने भी दिया सहयोग...


यहां बता दें कि राजधानी से बाहर कैबिनेट की बैठकों का आयोजन करने के मामले में हरीश रावत सबसे आगे हैं। उन्होंने वर्ष 2014 में अल्मोड़ा में कैबिनेट की बैठक की। हरदा कैबिनेट को लेकर केदारनाथ पहुंच गए, जहां बैठक में कई अहम निर्णय लिए गए। उन्होंने हरिद्वार जनपद के चुड़ियाला में भी कैबिनेट की बैठक की। अब ऐसा लगता है कि भाजपा के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत राजधानी से बाहर कैबिनेट बैठक करने का हरीश रावत के रिकार्ड को तोड़ देंगे। बता दें कि त्रिवेन्द्र रावत भराड़ीसैंण में दो कैबिनेट बैठकें कर चुके हैं और अब टिहरी में कैबिनेट बैठक करने की उनकी घोषणा जाहिर कर रही है कि उन्हें राजधानी से बाहर जाने में कोई दिक्कत नहीं है। 

Todays Beets: