Saturday, August 18, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

उत्तराखंड भाजपा में अंदरूनी बगावत के सुर, दो नेताओं ने नेतृत्व से दिखाई नाराजगी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड भाजपा में अंदरूनी बगावत के सुर, दो नेताओं ने नेतृत्व से दिखाई नाराजगी

देहरादून। विधानसभा चुनाव में भारी बहुमत से जीतकर प्रदेश में सरकार बनाने वाली भाजपा में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। पार्टी के अंदर ही नेतृत्व को लेकर विरोध के स्वर उठने लगे हैं। कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए दबंग विधायक कुंवर प्रणव चैम्पियन ने सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत की कार्यशैली के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। वहीं दूसरे विधायक ने सरकार के एक फैसले पर खुलकर असहमति जताकर अपने इरादे जाहिर कर दिए हैं।

चैम्पियन दिल्ली पहुंचे

गौरतलब है कि अपने बयानों और कारनामों के चलते सुर्खियों में रहने वाले कुंवर प्रणव चैम्पियन ने अपनी नाराजगी से पार्टी आलाकमान को अवगत कराने के लिए इन दिनों दिल्ली में डेरा जमा रखा है। अब उन्होंने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाहसे मुलाकात का समय मांगा है लेकिन उन्हें अभी तक समय नहीं मिला है। बताया जा रहा है कि चैम्पियन ने मुख्यमंत्री को हरिद्वार में भ्रष्टाचार को लेकर शिकायतें की थीं लेकिन कोई एक्शन नहीं लिया गया। इससे वह काफी दुखी हैं और वे मन बनाकर दिल्ली आए हैं कि अपनी व्यथा आलाकमान को सुनाकर ही जाएंगे।


ये भी पढ़ें - जम्मू के सुंजुवां मिलिट्री कैम्प में आतंकियों से लोहा लेते हुए पौड़ी के इस लाल ने दी शहादत, कल...

मुन्ना सिंह भी नाराज

वहीं आपको बता दें कि पार्टी के दूसरे नेता मुन्ना सिंह भी स्थानीय ठेकेदारों के समर्थन में आ गए थे। मुन्ना सिंह सरकार द्वारा टेंडर प्रक्रिया को बदले जाने से नाराज हैं। पत्रकारों के पूछने पर उन्होंने बताया कि सरकार की नई टेंडर प्रक्रिया से स्थानीय ठेकेदारों के बेरोजगार हो जाएंगे। चैहान की असहमति को सरकार के कामकाज को लेकर उनकी नाराजगी से भी जोड़कर देखा जा रहा है। 

Todays Beets: