Sunday, February 17, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

उत्तराखंड भाजपा में अंदरूनी बगावत के सुर, दो नेताओं ने नेतृत्व से दिखाई नाराजगी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड भाजपा में अंदरूनी बगावत के सुर, दो नेताओं ने नेतृत्व से दिखाई नाराजगी

देहरादून। विधानसभा चुनाव में भारी बहुमत से जीतकर प्रदेश में सरकार बनाने वाली भाजपा में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। पार्टी के अंदर ही नेतृत्व को लेकर विरोध के स्वर उठने लगे हैं। कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए दबंग विधायक कुंवर प्रणव चैम्पियन ने सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत की कार्यशैली के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। वहीं दूसरे विधायक ने सरकार के एक फैसले पर खुलकर असहमति जताकर अपने इरादे जाहिर कर दिए हैं।

चैम्पियन दिल्ली पहुंचे

गौरतलब है कि अपने बयानों और कारनामों के चलते सुर्खियों में रहने वाले कुंवर प्रणव चैम्पियन ने अपनी नाराजगी से पार्टी आलाकमान को अवगत कराने के लिए इन दिनों दिल्ली में डेरा जमा रखा है। अब उन्होंने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाहसे मुलाकात का समय मांगा है लेकिन उन्हें अभी तक समय नहीं मिला है। बताया जा रहा है कि चैम्पियन ने मुख्यमंत्री को हरिद्वार में भ्रष्टाचार को लेकर शिकायतें की थीं लेकिन कोई एक्शन नहीं लिया गया। इससे वह काफी दुखी हैं और वे मन बनाकर दिल्ली आए हैं कि अपनी व्यथा आलाकमान को सुनाकर ही जाएंगे।


ये भी पढ़ें - जम्मू के सुंजुवां मिलिट्री कैम्प में आतंकियों से लोहा लेते हुए पौड़ी के इस लाल ने दी शहादत, कल...

मुन्ना सिंह भी नाराज

वहीं आपको बता दें कि पार्टी के दूसरे नेता मुन्ना सिंह भी स्थानीय ठेकेदारों के समर्थन में आ गए थे। मुन्ना सिंह सरकार द्वारा टेंडर प्रक्रिया को बदले जाने से नाराज हैं। पत्रकारों के पूछने पर उन्होंने बताया कि सरकार की नई टेंडर प्रक्रिया से स्थानीय ठेकेदारों के बेरोजगार हो जाएंगे। चैहान की असहमति को सरकार के कामकाज को लेकर उनकी नाराजगी से भी जोड़कर देखा जा रहा है। 

Todays Beets: