Thursday, October 19, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

सरकारी नौकरी के दौरान मौत होने पर बेटा और तलाकशुदा पुत्री कर सकेगी नौकरी के लिए आवेदन - रावत कैबिनेट

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सरकारी नौकरी के दौरान मौत होने पर बेटा और तलाकशुदा पुत्री कर सकेगी नौकरी के लिए आवेदन - रावत कैबिनेट

देहरादून । उत्तराखंड कैबिनेट की बुधवार को हुई बैठक में कई अहम फैसलों पर मुहर लगाई गई है। इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राज्य की जनता को कई आयामों में लाभ पहुंचाने की कोशिश की। जहां सीएम ने उत्तराखंड में एलपीजी कनेक्शन से वंचित परिवारों को निशुल्क गैस कनेक्शन दिए जाने का फैसला लिया है, वहीं फैसला लिया कि सरकारी नौकरी के दौरान मृतक कर्मचारियों की जगह उनके बेटों के अलावा तलाकशुदा पुत्री भी आवेदन कर सकत हैं। इसके साथ ही बैठक में गढ़वाल मंडल विकास निगम और कुमाऊं मंडल विकास निगम के आलावा स्थानीय निकायों में 7वें वेतनमान की संस्तुतियां लागू करने का निर्णय लिया। 

बता दें कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में बुधवार को उनकी कैबिनेट की एक अहम बैठक हुई। इस बैठक में फैसला लिया गया कि अब प्रदेश के डिग्री कॉलेजों में 585 अस्थाई शिक्षकों की तैनाती की जाएगी। इतना ही नहीं कैबिनेट ने उत्तर प्रदेश आबकारी अधिनियम की धारा 28 में संशोधन किए जाने का फैसला लिया। इस दौरान सरकार ने राज्य कर्मचारियों के परिवारों के हित में भी एक बड़ा फैसला लिया है। 


कैबिनेट ने निर्णय लिया कि अगर सरकारी नौकरी के दौरान उनके किसी कर्मचारी की मौत हो जाती है कि तो उसकी जगह उनके बेटों के अलावा तलाकशुदा पुत्री भी पिता के स्थान पर नौकरी के लिए आवेदन कर सकती है। इसके साथ ही कैबिनेट में हरिद्वार नगर निगम का सीमा विस्तार किए जाने पर भी मुहर लगी है।

Todays Beets: