Saturday, October 20, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना को लागू करने में उत्तराखंड रहा अव्वल, ग्लोबल स्किल मीट में मिला सम्मान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना को लागू करने में उत्तराखंड रहा अव्वल, ग्लोबल स्किल मीट में मिला सम्मान

देहरादून। हर हाथ को हुनरमंद बनाने के लिए केन्द्र सरकार की योजना प्रधानमंत्री कौशल विकास में उत्तराखंड सबसे आगे रहा है। उत्तराखंड इस योजना को स्टेट कंपोनेंट के तहत लागू करने वाले पहला राज्य बन गया है। इस योजना के तहत देश का पहला प्रशिक्षण केंद्र देहरादून में 60 युवाओं के प्रशिक्षण से प्रारंभ किया जा चुका है। प्रोटेक्नोलॉजीस के कंपयूटर अकादमी केंद्र में चल रहे इस प्रशिक्षण केंद्र में फील्ड टेक्नीशियन, कंप्यूटर एंड पेरिफेरल के क्षेत्र में प्रशिक्षित किया जा रहा है।

प्रशिक्षण केन्द्र खुले

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत का पूरा ध्यान कौशल विकास पर निर्भर है। इसके लिए केन्द्रीय योजना पर पूरी तरह से अमल किया जा रहा है। कौशल विकास योजना के प्रोजेक्ट डायरेक्टर डॉक्टर पंकज कुमार पांडेय के अनुसार प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत देश का पहला प्रशिक्षण बैच शुरु करने में तकनीकी दिक्कतें भी आईं, लेकिन इन्हें विभिन्न संस्थानों के समन्वय से दूर कर लिया गया है और आने वाले समय में और भी प्रशिक्षण केन्द्र खोले जाएंगे। 

ये भी पढ़ें - अवैध तरीके से पेड़ों के कटान मामले में रेंजर समेत 5 दारोगा निलंबित, वन विभाग ने की कार्रवाई


एप पर करें संपर्क

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में 2020 तक 40 हजार युवाओं को मुफ्त रोजगारपरक प्रशिक्षण देने का लक्ष्य रखा गया है। पंकज पांडे ने बताया कि इस योजना से पहले ही ‘उत्तराखंड कौशल विकास मिशन’ के जरिए 12000 से अधिक युवाओं को 32 विभिन्न क्षेत्रों में प्रशिक्षण प्रदान किया जा चुका है।  ‘उत्तराखंड कौशल विकास मिशन’ की ओर से ‘कुशल उत्तराखंड एप’ विकसित किया गया है। इसके जरिए लोग अपनी जरूरत के हिसाब से कुशल युवा प्लंबर, इलेक्ट्रिशियन आदि से संपर्क कर सकते हैं। यहां बता दें कि कौशल विकास मिशन को जून 2017 में पेरिस में हुई ग्लोबल स्किल मीट में सम्मानित किया जा चुका है।

Todays Beets: