Saturday, December 15, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

शराब की ओवर रेटिंग रोकने में नाकाम अधिकारियों पर गिरेगी गाज, सीएम ने दिए हटाने के निर्देश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
शराब की ओवर रेटिंग रोकने में नाकाम अधिकारियों पर गिरेगी गाज, सीएम ने दिए हटाने के निर्देश

देहरादून। स्वच्छ और पारदर्शी सरकार देने के वादे की तरफ प्रदेश ने एक और कदम आगे बढ़ाया है। शराब की ओवर रेटिंग पर लगाम लगाने के सरकारी निर्देश के बाद भी इस पर कोई रोक नहीं लगाई जा सकी है। इसके लिए जिम्मेदार आबकारी अधिकारियों पर गाज गिरने वाली है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने इन अधिकारियों को हटाने की मंजूरी दे चुके हैं। 

व्यवस्थाओं में सुधार

गौरतलब है कि सरकार ने आबकारी अधिकारियों के खिलाफ कड़ा रुख अपनाते हुए संबंधित जिलों के आबकारी अधिकारियों को हटाने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही ट्रायल के तौर पर गढ़वाल और कुमाऊं मंडल में अपर आबकारी आयुक्तों की तैनाती का भी निर्णय लिया है। बता दें कि हरिद्वार, ऊधमसिंहनगर, नैनीताल और अल्मोड़ा के जिला आबकारी अधिकारियों को हटाने के निर्देश दिए गए हैं। खबरों के अनुसार विभागीय मंत्री ने व्यवस्थाओं में सुधार को यह कदम उठाया है। 

ये भी पढ़ें - ‘इंद्रदेव’ की नाराजगी ने सरकार की बढ़ाईं मुश्किलें, राज्य में बढ़ रहे सूखे के आसार

इन्हें मिल सकती है जिम्मेदारी


प्रशांत को हरिद्वार और पवन सिंह को नैनीताल की जिम्मेदारी देने की चर्चा जोरों पर है। पवन सिंह दून में विवादों में भी रह चुके हैं। बागेश्वर के डीईओ को अल्मोड़ा का जिम्मा देने की चर्चा है। बताया जा रहा है कि आत्माराम सेमवाल को कुमाऊं और पीसी गब्र्याल को गढ़वाल का अपर आबकारी आयुक्त बनाया जा सकता है। दोनों को शराब तस्करी व ओवर रेटिंग रोकने की जिम्मेदारी दी रही है। 

 

 

Todays Beets: