Wednesday, May 22, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

डिब्बाबंद ‘उत्तराखंडी शुद्ध हवा’ की आॅनलाइन ब्रिकी शुरू, सरकार को भनक तक नहीं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
डिब्बाबंद ‘उत्तराखंडी शुद्ध हवा’ की आॅनलाइन ब्रिकी शुरू, सरकार को भनक तक नहीं

देहरादून। देश में बढ़ते प्रदूषण से बचने के लिए लोग न जाने कौन-कौन से उपाय अपनाते हैं। आपने यह तो सुना होगा कि घर में शुद्ध हवा प्राप्त करने के लिए लोग एयर प्यूरीफायर का उपयोग करते हैं लेकिन क्या आपने हिमालयी क्षेत्र की हवा डिब्बे में उपलब्ध होने के बारे में सुना है। अगर नहीं तो हम आपको बता दें कि उत्तराखंड के हिमालयी बुग्यालों की शुद्ध हवा भी बिकने लगी है। हिमालयन फ्रेश एयर से भरे डिब्बे ऑनलाइन बिक रहे हैं। करीब 10 लीटर हवा के डिब्बे की कीमत 800 रुपये है लेकिन छूट के बाद यह 550 रुपये में मिल रहा है। दिल्ली-एनसीआर में आज इस शुद्ध हवा के डिब्बे का जबर्दस्त मांग हो रही है। हालांकि राज्य कर विभाग की ओर से ऐसी किसी कंपनी की जानकारी होने से इंकार किया गया है। 

गौरतलब है कि एक डिब्बे से आप तकरीबन 160 बार शुद्ध हवा ले सकते हैं। बताया जा रहा है कि ‘प्योर हिमालयन एयर’ नाम की वेबसाइट अपने डिब्बों में उत्तराखंड की हवा बेच रही है। बता दें कि उत्तराखंड के हिमालयी इलाकों से हवा को कंप्रेस कर खास किस्म की पैकिंग में भरा गया है। डिब्बे पर दर्ज जानकारी में कंपनी दावा करती है कि हवा उत्तराखंड के चमोली जिले के रूपकुंड और बागेश्वर जिले से लगते पिंडारी क्षेत्र से डिब्बाबंद की गई है। कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर कोई स्थायी पता या फोन नंबर नहीं दिया है। केवल ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट से ही इसकी डिलिवरी दी जा रही है। 

ये भी पढ़ें - विधानसभा सत्र आयोजन पर हरक सिंह की भी ‘ना’, कांग्रेस ने बताया गैरसैंण विरोधी


यहां बता दें कि इन दिनों वायु प्रदूषण से बुरी तरह से प्रभावित दिल्ली-एनसीआर में इस हवा के डिब्बों की मांग काफी बढ़ गई है। लोगों को शुद्ध हवा बेचने का यह तरीका काफी पसंद आ रहा है। डिब्बा बंद शुद्ध हवा में ऑक्सीजन, नाइट्रोजन के साथ दूसरे प्राकृतिक तत्व भी रहते हैं। इससे शरीर को ज्यादा ताकत और स्फूर्ति मिलती है। इसलिए इस तरह की डिब्बाबंद हवा को किसी भी वक्त सांस के जरिए शरीर में लिया जा सकता है। वहीं ऑक्सीजन के छोटे सिलेंडर अमूमन मेडिकल इस्तेमाल के लिए होते हैं। हालांकि राज्य कर विभाग के असिस्टेंट कमिश्नर विनय ओझा का कहना है कि फिलहाल ऐसी किसी कंपनी की जानकारी उन्हें नहीं है, जो हिमालय की डिब्बा बंद शुद्ध हवा को कंप्रेस कर बेच रही हो।

Todays Beets: