Sunday, December 16, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

पीएम के दौरे से पहले कलियर से अफगानी संदिग्ध गिरफ्तार, पुलिस ने भेजा जेल

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पीएम के दौरे से पहले कलियर से अफगानी संदिग्ध गिरफ्तार, पुलिस ने भेजा जेल

देहरादून। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीएम नरेन्द्र मोदी के देहरादून पहुंचने से पहले खुफिया विभाग ने रुड़की के कलियर इलाके से एक अफगानी संदिग्ध को गिरफ्तार किया है। पुलिस की पूछताछ में उसने बताया कि पिछले 7 सालों से यह देश के अलग-अलग हिस्सों में नाम बदलकर रह रहा है। अब पुलिस ने विदेशी उसके खिलाफ मामला दर्ज करते हुए उसे जेल भेज दिया है। बता दें कि गुरुवार यानी की 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर देहरादून में होने वाले मुख्य कार्यक्रम में हिस्सा लेने पीएम वहां पहुंचने वाले हैं। 

गौरतलब है कि पीएम के कार्यक्रम में शामिल होने की खबरों के बाद वैसे ही राज्य में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। इसके लिए राज्य के विभिन्न इलाकों में संदिग्धों की धर पकड़ के लिए तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। खुफिया विभाग और एलआईयू से मिली जानकारी के बाद पुलिस ने रुड़की के कलियर इलाके से अफगानिस्तान के रहने वाले एक शख्स को गिरफ्तार किया है। 

ये भी पढ़ें - योग दिवस को लेकर दून में सुरक्षा के कड़े इंतजाम, बंदर और सांप पकड़ने में जुटे कर्मचारी


यहां बता दें कि विदेशी नागरिक अपना पासपोर्ट और कोई पहचान पत्र नहीं दिखा पाया जिसके बाद पुलिस उसे थाने ले आई। कड़ाई से पूछताछ करने पर युवक ने अपना नाम कतीलशफा पुत्र अब्बास निवासी सुरख रोड जिला जलालाबाद राज्य निंगरहार अफगानिस्तान बताया। बता दें कि पहले उसने खुद का गोवा का रहने वाला समीर बताया था। पुलिस की पूछताछ में इस बात का खुलासा हुआ कि वह 3 महीने पहले ही कलियर आया था, वैसे वह भारत के अलग-अलग स्थानों पर पिछले 7 सालों से रह रहा है। 

गौर करने वाली बात है कि कतीलशफा ने पुलिस को बताया कि 2010 में उसने साइप्रस में भारतीय मूल की पंजाबी लड़की से शादी कर ली थी और 2013 में उसके साथ भारत आ गया। दोनों के बीच तनाव के बाद वह बच्चे के साथ इटली चली गई और वह यहीं रह गया। वीजा की अवधि खत्म होने के बाद वह देश के विभिन्न हिस्सों में नाम बदलकर रहा और 3 महीने पहले ही रुड़की आया है। पुलिस ने विदेशी अधिनियम के तहत इसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 

Todays Beets: