Tuesday, March 26, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

उत्तराखंड में मौसम का 'कहर' , बद्रीनाथ में 9 फीट बर्फ जमा, अगले 24 घंटे बारिश-ओलावृष्टी का पूर्वानुमान

अंग्वाल संवाददाता
उत्तराखंड में मौसम का

देहरादून । उत्तराखंड में इस बार भारी बर्फबारी का दौर मार्च माह में भी जारी है। राज्य के ऊंचे पहाड़ी इलाकों में शनिवार को भी बर्फबारी ने मैदानी इलाकों में एक बार फिर से कंपकपाहट ला दी है। जहां एक ओर शनिवार को देहरादून समेत कुछ मैदानी इलाकों में हल्की बारिश के बाद बादल छाए रहे, वहीं बद्रीनाथ, हेमकुंड, फूलों की घाटी, रुद्रनाथ, गोरसों बुग्याल, पनार बुग्याल, लाल माटी सहित ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी  जारी है। इसके अलावा कुछ इलाकों में ओलावृष्टि की भी खबरें आ रही हैं। बद्रीनाथ के करीब के कुछ गांवों में तो आलम यह है कि वहां घर पूरी तरह बर्फ से ढक गए हैं। इस सब के बीच मंगलवार तक राज्य के कई इलाकों में बारिश का पूर्वानुमान है।

मार्च में नहीं देखी ऐसी ठंडक

उत्तराखंड के कुछ पहाड़ी इलाकों में अभी भी हो रही बर्फबारी से जहां लोग परेशान हैं, वहीं मैदानी इलाकों में शनिवार को छाए बादलों ने लोगों को कोई राहत नहीं दी है। मार्च के महीने में मौसम के इस रुख को देखकर लोग भौचक्के हैं। लोगों का कहना है कि मार्च के महीने में भी बर्फबारी और इस तरह का मौसम कई सालों बाद देखने को मिला है।

अगले 24 घंटे आफत भरे


मौसम विभाग ने शनिवार रात से देहरादून, पौड़ी और नैनीताल में तेज बारिश और ओलावृष्टि का पूर्वानुमान जारी किया है। इससे इतर शनिवार दोपहर को भी श्रीनगर, रुद्रप्रयाग , यमुनोत्री घाटी और केदारनाथ में बादल छाए हैं। यहां तक कि हरिद्वार में काले बादल छाए रहे। अगर बात कुमाऊं की करें तो भवाली, गागर, मुकतेश्वर, धानाचूली, रामगढ़ में भी बादल छाए हुए हैं। मुकतेश्वर और धानाचूली में देर शाम तक बर्फबारी और ओलावृष्टी होने की संभावना है।

बद्रीनाथ में 9 फीट बर्फ

इस सब के बीच बद्रीनाथ धाम में 9 फीट तक बर्फ जम गई है। इस बर्फबारी के चलते जहां कुछ घरों को नुकसान हुआ है वहीं कुछ दुकानें भी क्षतिग्रस्त हुई हैं। आलम यह है कि हेमकुंड साहिब में 11 फीट तक बर्फ जमा हो गई है। हेमकुंड सरोवर पूरी तरह से जम गया है।

 

Todays Beets: