Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

हरिद्वार के रिहायशी इलाके में घुस आया सांभर , लोगों में मची अफरा-तफरी के बाद वन विभाग के कर्मचारियों ने पकड़ा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हरिद्वार के रिहायशी इलाके में घुस आया सांभर , लोगों में मची अफरा-तफरी के बाद वन विभाग के कर्मचारियों ने पकड़ा

हरिद्वार । जंगलों से निकलकर जंगली जानवरों का रिहायशी इलाकों में आना अब कोई नई बात नहीं रही। इसी क्रम में सोमवार सुबह हरिद्वार जिले के ज्वालापुर के पूर्वी नाथ नगर मोहल्ले के एक घर में एक सांभर घुस गया। इस खबर के साथ ही पूरे मोहल्ले में अफरा-तफरी का मौहाल पसर गया। जहां बड़ी संख्या में लोग सांभर को देखने के लिए आने लगे, वहीं भीड़ देखकर घबराए सांभर ने हिंसक रूप में इधर उधर भागना शुरू कर दिया। बाद में विन विभाग को इसकी सूचना दी गई। काफी देर बाद वन विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंचे। इसके बाद कड़ी मशक्कत करने पर इन कर्माचारियों ने सांभर को अपने कब्जे में किया। सांभर को अपने कब्जे में लेने के बाद वन कर्मी उसे जंगल में छोड़ आए।

बता दें कि सोमवार सुबह हरिद्वार जिले में ज्वालापुर के पूर्वी नाथ नगर मोहल्ले में अफरा-तफरी मच गई। इलाके में एकाएक एक सांभर के घुस आने की खबर जैसे ही लोगों को मिली, लोग उसे देखने के लिए बड़ी संख्या में इलाके की ओर आने लगे। कुछ देर बाद वहां लोगों की भीड़ लग गई, लेकिन भीड़ को देखकर सांभर घबरा गया और इधर उधर भागने लगा। 


वहीं कुछ लोगों ने इसकी जानकारी वन विभाग को दी। बाद में वन विभाग के कर्मचारियों ने एक जाल के माध्यम से इन सांभर को अपने काबू में करने में सफलता पाई। बाद में वन विभाग के कर्मचारी उसे अपने वाहन में जंगल की ओर ले गए और वहां उसे छोड़ दिया। 

Todays Beets: