Monday, May 21, 2018

Breaking News

   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||   बिहार: शराब और मुर्गे के साथ गश्त करने वाली पुलिस टीम निलंबित     ||

उत्तराखंड में लड़खड़ाई अर्थव्यवस्था

उत्तराखंड में लड़खड़ाई अर्थव्यवस्था
Normal 0 false false false EN-US X-NONE HI

उत्तराखंड की अर्थव्यवस्था पिछले 15 सालों सेडगमगा रही है। कृषि, पर्यटन जैसे रोजगार के मुख्य साधनों पर टिकी सूबे की आवाम केलिए आर्थिकी का कुछ और साधन नज़र नहीं आता। लगातार डगमगाती सरकारी योजनाओं ने पहलेही राज्य को विकास और तरक्की के पथ पर आगे बढ़ने से रोक दिया, ऊपर से आपदा के चलते उत्तराखंड कीअर्थव्यवस्था पर काफी बुरा असर पड़ा, आपदा के कारण पर्यटन व्यवसाय तो प्रभावित हुआही है, साथ ही औद्योगिक घराने और संगठन की बेरूखीके चलते उत्तराखंड की छवि को भी धक्का लगा।

पटरी से उतरी अर्थव्यवस्था को दोबारा रफ्तारपकड़ाने के लिए राज्य सरकार ज़ोर लगा रही है। दुनिया भर में यह संदेश दिया जा रहाहै कि उत्तराखंडऔद्योगिक निवेश के लिए सुरक्षित है, इतना ही नहीं युवाओं के लिए ज्यादा से ज्यादारोज़गार के अवसर तलाशे जा रहे हैं। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए मेरे बुजुर्ग, मेरे तीर्थ जैसी योजनाओं को चलाया जा रहा है,ताकि सूबे की लड़खड़ाती अर्थ व्यवस्था को एक बार फिर खड़ा किया जा सके। खैर उम्मीदकरते हैं कि सरकार की ये कोशिश रंग लाएगी।


 

 

  

Todays Beets: