Monday, December 16, 2019

Breaking News

   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||   दिल्ली: राजनाथ सिंह के सामने आया शख्स, पीएम मोदी से मिलाने की मांग की     ||   उत्तराखंड के बद्रीनाथ में भारी हिमपात , तापमान माइनस पर पहुंचा    ||   नेपालः कास्की में कम्युनिस्ट पार्टी के बैठक स्थल के पास पार्किंग में धमाका     ||   राम मंदिर मामले में रिव्यू याचिका दायर करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड     ||   दिल्ली हाईकोर्ट ने मालविंदर सिंह और सुनील गोड़वानी को एक दिन की ED हिरासत में भेजा     ||   बीजेपी ने पार्टी महासचिव अरुण सिंह को यूपी से राज्यसभा उम्मीदवार बनाया     ||   पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम की न्यायिक हिरासत 11 दिसंबर तक बढ़ाई गई     ||   INX मीडिया केस: पी चिदंबरम को झटका, दिल्ली हाईकोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका     ||   वकील VS पुलिस मामला: HC ने कहा- जांच पूरी होने तक पुलिस पक्ष से नहीं होगी गिरफ्तारी     ||

अब आसमान में दिखेगा एक और सूरज, असली सूरज से होगा 6 गुना ज्यादा गर्म

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब आसमान में दिखेगा एक और सूरज, असली सूरज से होगा 6 गुना ज्यादा गर्म

नई दिल्ली। आसमान में मौजूद एक सूरज ही गर्मी के दिनों में लोगों के पसीने छुड़ा देता है ऐसे में अगर आकाश में एक और सूरज निकल आए तो क्या हाल होगा इसका अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है। यह बात सच है कि चीन जल्द ही एक कृत्रिम सूरज तैयार करने में जुटा हुआ है। यह सूरज असली सूरज की तुलना में 6 गुना ज्यादा गर्मी पैदा करेगा। चीन का कहना है कि स्वच्छ ऊर्जा पैदा करने के मकसद से इस सूरज का निर्माण किया जा रहा है।

गौरतलब है कि चीन की एकेडमी ऑफ साइंस से जुड़े इंस्टीट्यूट ऑफ प्लाजमा फिजिक्स में इसका परीक्षण किया जा रहा है। इस सूरज को एक्सपेरिमेंटल सुपरकंडक्टिंग टोकामक नाम दिया गया है। बताया जा रहा है कि इसकी बनावट एक खोखले डब्बे की तरह तरह है जिसमें न्यूक्लियर फ्यूजन (परमाणु के विखंडन) के जरिए गरमी पैदा की जा सकती है। हालांकि इसे एक दिन के लिए चालू करने का खर्च 15 हजार डॉलर (करीब 11 लाख रुपए) है। फिलहाल इस मशीन को चीन के अन्हुई प्रांत स्थित साइंस द्वीप में रखा गया है। 

ये भी पढ़ें - स्पेसएक्स ने किया चंद्रमा पर जाने वाले पहले यात्री का ऐलान, जापानी अरबपति युसाकू माएजावा करें...


गौर करने वाली बात है कि असली सूरज का कोर करीब 1.50 करोड़ डिग्री सेल्सियस तक गरम होता है, वहीं चीन का यह नया सूरज 10 करोड़ डिग्री सेल्सियस तक की गरमी पैदा कर सकेगा। यह सौर मंडल के मध्य में स्थित किसी तारे की तरह ही ऊर्जा का भंडार उपलब्ध कराएगा। चीन द्वारा तैयार किया जा रहा कृत्रिम सूरज भले ही स्वच्छ ऊर्जा मुहैया कराने के लिए तैयार किया जा रहा हो लेकिन इससे निकलने वाले जहरीला कचरा  इंसानों के लिए काफी खतरनाक होगा।  

 

Todays Beets: