Thursday, September 24, 2020

Breaking News

   कप्तान धोनी ने IPL2020 की शुरुआत जीत से की,जानिये कैसे ?     ||   लखनऊ: यूपी में आकाशीय बिजली से हुई मौत के मामले में परिजनों को 4 लाख मुआवजा     ||   कोरोना काल में भाजपा सरकार ने अनेक ख्याली पुलाव पकाए, लेकिन एक सच भी था? -राहुल गांधी     ||   पिछले 6 महीने में भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं: राज्यसभा में गृह मंत्रालय का बयान     ||   राजस्थान: बूंदी में चंबल नदी में नाव डूबने से 6 लोगों की मौत, 12 लोगों को रेस्क्यू किया गया     ||   मुंबई: बच्चन परिवार को अतिरिक्त सुरक्षा मुहैया कराएगी मुंबई पुलिस     ||   राज्यसभा में BJP MP विनय सहस्रबुद्धे का बयान, महाराष्ट्र सरकार ही अवैध निर्माण का प्रतीक     ||   ग्रीनलैंड में सबसे बड़ा ग्लेशियर टूटा, चंडीगढ़ के बराबर बर्फ की चट्टान समुद्र में     ||   किसान बिल के विरोध पर बोले नड्डा- कांग्रेस पहले समर्थन में थी, अब राजनीति कर रही     ||   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||

अब आसमान में दिखेगा एक और सूरज, असली सूरज से होगा 6 गुना ज्यादा गर्म

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब आसमान में दिखेगा एक और सूरज, असली सूरज से होगा 6 गुना ज्यादा गर्म

नई दिल्ली। आसमान में मौजूद एक सूरज ही गर्मी के दिनों में लोगों के पसीने छुड़ा देता है ऐसे में अगर आकाश में एक और सूरज निकल आए तो क्या हाल होगा इसका अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है। यह बात सच है कि चीन जल्द ही एक कृत्रिम सूरज तैयार करने में जुटा हुआ है। यह सूरज असली सूरज की तुलना में 6 गुना ज्यादा गर्मी पैदा करेगा। चीन का कहना है कि स्वच्छ ऊर्जा पैदा करने के मकसद से इस सूरज का निर्माण किया जा रहा है।

गौरतलब है कि चीन की एकेडमी ऑफ साइंस से जुड़े इंस्टीट्यूट ऑफ प्लाजमा फिजिक्स में इसका परीक्षण किया जा रहा है। इस सूरज को एक्सपेरिमेंटल सुपरकंडक्टिंग टोकामक नाम दिया गया है। बताया जा रहा है कि इसकी बनावट एक खोखले डब्बे की तरह तरह है जिसमें न्यूक्लियर फ्यूजन (परमाणु के विखंडन) के जरिए गरमी पैदा की जा सकती है। हालांकि इसे एक दिन के लिए चालू करने का खर्च 15 हजार डॉलर (करीब 11 लाख रुपए) है। फिलहाल इस मशीन को चीन के अन्हुई प्रांत स्थित साइंस द्वीप में रखा गया है। 

ये भी पढ़ें - स्पेसएक्स ने किया चंद्रमा पर जाने वाले पहले यात्री का ऐलान, जापानी अरबपति युसाकू माएजावा करें...


गौर करने वाली बात है कि असली सूरज का कोर करीब 1.50 करोड़ डिग्री सेल्सियस तक गरम होता है, वहीं चीन का यह नया सूरज 10 करोड़ डिग्री सेल्सियस तक की गरमी पैदा कर सकेगा। यह सौर मंडल के मध्य में स्थित किसी तारे की तरह ही ऊर्जा का भंडार उपलब्ध कराएगा। चीन द्वारा तैयार किया जा रहा कृत्रिम सूरज भले ही स्वच्छ ऊर्जा मुहैया कराने के लिए तैयार किया जा रहा हो लेकिन इससे निकलने वाले जहरीला कचरा  इंसानों के लिए काफी खतरनाक होगा।  

 

Todays Beets: