Thursday, April 22, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

मुफ्त वाई-फाई की मदद से ‘कुली’ ने पास की सिविल सेवा परीक्षा, तीसरे प्रयास में मिली सफलता

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुफ्त वाई-फाई की मदद से ‘कुली’ ने पास की सिविल सेवा परीक्षा, तीसरे प्रयास में मिली सफलता

नई दिल्ली। ‘‘कौन कहता है आसमां में सुराख नहीं हो सकता, एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारो’’। यह कहावत तो आपने जरूरी सुनी होगी और यह पूरी तरह से फिट बैठती है कि केरल में स्टेशन पर कुली का काम करने वाले श्रीनाथ के. पर। श्रीनाथ ने स्टेशन के मुफ्त वाई-फाई की मदद से सिविल सेवा परीक्षा की लिखित परीक्षा पास की है। श्रीनाथ केरल के एर्नाकुलम स्टेशन पर पिछले 5 सालों से कुली का काम कर रहे हैं। श्रीनाथ के मन में एक बड़ा अधिकारी बनने का सपना तो था लेकिन सुविधाओं की कमी के चलते यह संभव नहीं हो पा रहा था। उन्होंने स्टेशन पर उपलब्ध मुफ्त वाईफाई सुविधा के सहारे इंटरनेट के जरिए पढ़ाई की और अपने तीसरे प्रयास में केरल पब्लिक सर्विस कमीशन (केपीएससी) की लिखित परीक्षा पास की। 

ये भी पढ़ें - यूपी का यह ‘लाल’ है रियल लाइफ का ‘बजरंगी भाईजान’, जेल में बंद बेटे को मिलाया मां-बाप से


बड़ी बात यह रही है कि श्रीनाथ पढ़ाई के लिए किताबों में ही डूबे नहीं रहे बलिक अपना काम करते हुए उन्होंने अपने स्मार्टफोन और ईयरफोन के जरिए पढ़ाई करते रहे। अब अगर श्रीनाथ साक्षात्कार में सफल हो जाते हैं तो वह भूमि राजस्व विभाग के तहत विलेज फील्ड असिस्टेंट के पद पर नियुक्त हो जाएंगे। गौरतलब है कि पिछले 5 सालों से कुली का काम कर रहे श्रीनाथ का यह तीसरा प्रयास था। उनका कहना है कि यह पहला मौका था, जब उन्होंने स्टेशन पर उपलब्ध वाईफाई सुविधा का इस्तेमाल किया। 

उन्होंने ये भी बताया कि कुली का काम करने के दौरान वे हमेशा ईयरफोन कान में लगाए रखते थे और इंटरनेट पर अपने संबंधित विषयों पर लेक्चर सुना करते थे। उसे मन ही मन दोहराते भी रहते थे और रात को मौका मिलते ही फिर रिवाइज कर लेते थे। इसी वाईफाई की मदद से उन्होंने ऑनलाइन अपना परीक्षा फार्म भरा और देश दुनिया की ताजा जानकारियों से खुद को अपडेट किया साथ ही अपने विषयों की जमकर तैयारी की। अब आगे वह दूसरी प्रशासनिक परीक्षाओं के बारे में भी सोच रहे हैं।

Todays Beets: