Wednesday, September 30, 2020

Breaking News

   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||   अभिनेत्री कंगना रनौत-बीएमसी मामले में सुनवाई स्थगित     ||   सुशांत केस - जांच में देरी पर CBI बोली - हम हर एंगल की बारीकी और प्रोफेशनल तरीके से कर रहे हैं जांच    ||   कप्तान धोनी ने IPL2020 की शुरुआत जीत से की,जानिये कैसे ?     ||   लखनऊ: यूपी में आकाशीय बिजली से हुई मौत के मामले में परिजनों को 4 लाख मुआवजा     ||   कोरोना काल में भाजपा सरकार ने अनेक ख्याली पुलाव पकाए, लेकिन एक सच भी था? -राहुल गांधी     ||

क्या सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद टल सकती है JEE - NEET परीक्षाएं! , सरकार बना रही है कुछ ऐसा मन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
क्या सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद टल सकती है JEE - NEET परीक्षाएं! , सरकार बना रही है कुछ ऐसा मन

नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट ने पिछले दिनों अपने एक अहम आदेश में NEET और JEE परीक्षा के आयोजन के‌ खिलाफ दायर याचिका को खारिज करते हुए कहा कि क्या देश में सब कुछ रोक दिया जाए? एक कीमती साल को यूं ही बर्बाद हो जाने दिया जाए? इस सबके बाद तय हो गया कि देश में जेईई की परीक्षा 1 सितंबर से 6 सितंबर तक आयोजित की जानी है । वहीं NEET परीक्षा 13 सितंबर को आयोजित करने की योजना है । लेकिन अब ऐसी भी खबरें आ रही हैं कि कुछ छात्रों के विरोध को देखते हुए सरकार इस परीक्षा को टाल सकती है । हालांकि इस फैसले पर स्वास्थ्य और गृह मंत्रालय के अफसरों से बात किए बिना कोई अंतिम फैसला नहीं लिया जा सकता । ऐसी भी खबरें हैं कि शिक्षा मंत्री द्वारा इस मुद्दे को लेकर आने वाले दिनों में दो बैठकों का आयोजिन किया जा रहा है ।

बता दें कि इन परीक्षाओं को रद्द करवाने के मांग को लेकर कुछ समय पहले 11 राज्यों के छात्रों ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की थी । सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका को खारिज करते हुए कहा था कि क्या देश में सब कुछ रोक दिया जाए, क्या एक कीमती साल को यूं ही बर्बाद कर दिया जाए। 


सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद जेईई और एनईईटी की परीक्षा में बैठने वाले छात्र फिर से अपनी पढ़ाई में जुट गए , लेकिन अब सूत्रों के हवाले से ऐसी खबर है कि सोशल मीडिया पर छात्रों की नाराजगी को देखते हुए सरकार इन परीक्षाओं को स्थगित करने का मन बना रही है । लेकिन इस मामले पर कोई भी अंतिम फैसला गृह और स्वास्थ्य मंत्रालय से बातचीत के बिना नहीं लिया जा सकता । 

ऐसी जानकारी मिली है कि JEE और NEET परीक्षा के मुद्दे पर 25 अगस्त के बाद दो मीटिंग आयोजित की जानी हैं । इस मीटिंग को शिक्षा मंत्री द्वारा बुलाया जाएगा. बता दें, शिक्षा मंत्री द्वारा आज इस मुद्दे पर कोई इमरजेंसी मीटिंग नहीं बुलाई गई है । 

Todays Beets: