Monday, February 24, 2020

Breaking News

   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||

परीक्षा से पहले ही यूपी बीटीसी-2015 के प्रश्न पत्र लीक, पूरी परीक्षा निरस्त

अंग्वाल न्यूज डेस्क
परीक्षा से पहले ही यूपी बीटीसी-2015 के प्रश्न पत्र लीक, पूरी परीक्षा निरस्त

लखनऊ। उत्तरप्रदेश में बेसिक ट्रेनिंग सर्टिफिकेट (बीटीसी)-2015 चौथे सेमेस्टर के प्रश्नपत्र परीक्षा शुरू होने से पहले लीक होने के बाद सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। अब 8 से 10 अक्तूबर के बीच होने वाली पूरी परीक्षा निरस्त कर दी गई है। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने यह फैसला लिया है। अब इस परीक्षा के लिए नई तारीख का ऐलान बाद में किया जाएगा। बता दें कि पर्चा कौशाम्बी में आउट हुआ था। बता दें कि सोशल मीडिया पर वायरल हुए प्रश्न पत्र की जांच करने पर दोनों को समान पाया गया। इसके बाद ही परीक्षा को निरस्त करने का निर्णय लिया गया है। 

गौरतलब है कि बीटीसी-2015 चौथे सेमेस्टर के साथ बीटीसी-2013 सेवारत बैच (मृतक आश्रित), बीटीसी-2014 (अवशेष/अनुत्तीर्ण) की परीक्षा प्रदेश भर में 8 अक्तूबर से शुरू हुई। बता दें कि परीक्षा शुरू होने से पहले ही प्रश्नपत्र के सोशल मीडिया पर वायरल होने से परीक्षा के आयोजकों पर भी सवाल उठ रहे हैं। 


ये भी पढ़ें - यूपीएससी ने छात्रों को दी बड़ी राहत, अब नाम वापस ले सकेंगे अभ्यर्थी

यहां बता दें कि पूरे उत्तरप्रदेश में इस परीक्षा में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों की संख्या 72688 है। बीटीसी की दो पालियों में होने वाली परीक्षा से पहले ही सोशल मीडिया पर गणित, विज्ञान, सामाजिक अध्ययन, हिंदी, अंग्रेजी एवं शांति शिक्षा एवं सतत विकास के प्रश्नपत्र वायरल हो गए। हालांकि शिक्षा विभाग के अधिकारी प्रश्नपत्र के लीक होने की घटना से इंकार करते रहे। 

Todays Beets: