Thursday, November 26, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

इग्नू शुरू करने जा रहा है रोजगारपरक कोर्स, जानें कहां और कैसे ले सकते हैं दाखिला

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इग्नू शुरू करने जा रहा है रोजगारपरक कोर्स, जानें कहां और कैसे ले सकते हैं दाखिला

नई दिल्ली। इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (इग्नू) ने एक नए पीजी कोर्स की शुरुआत की है। इग्नू के स्कूल आॅफ हेल्थ साइंस ने जुलाई 2018 से एक्यूपंक्चर (पीजीसीएसीपी) में पीजी सर्टिफिकेट प्रोग्राम लॉन्च किया है। एक्यूपंक्चर चिकित्सा की एक नई पद्धति है जो रोगियों की पुरानी बीमारी को ठीक करने के काम आएगी। इस कोर्स को ऑफलाइन ओपन एंड डिस्टेंस लर्निंग (ओडीएल) मोड और हार्ड कॉपी के रूप में छात्रों के सामने पेश किया जाएगा।

किन लोगों के लिए उपलब्ध है ये कोर्स

यहां यह जानना जरूरी है कि कौन लोग इस कोर्स को कर सकते हैं। भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देशों के अनुसार जिन छात्रों ने एलोपैथी, आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध, होम्योपैथी, दंत चिकित्सा और फिजियोथेरेपी से स्नातक कर लिया है वहीं इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। 

मुख्य जानकारी

- आवेदन पत्र IGNOU की ऑफिशियल वेबसाइट ignou.ac.in पर उपलब्ध हैं।

- आवेदन करने की अंतिम तिथि 16 अगस्त है।

- वैसे तो नया सत्र जुलाई 2018 से शुरू होता है पर जो स्टूडेंट्स अभी यह कोर्स नहीं कर सकते वे जनवरी 2019 में नए सत्र में कर सकते हैं।

- यह कोर्स भारत के चुने हुए 9 केंद्रों में पेश किया जाएगा। 

- दिल्ली, हुबली (कर्नाटक), 

-नासिक (महाराष्ट्र), 


-इंदौर (मध्य प्रदेश), 

-कोटा (राजस्थान), 

-चेन्नई (तमिलनाडु), 

-राउरकेला (उड़ीसा), 

-लुधियाना (पंजाब) और 

-कोलकाता (पश्चिम बंगाल)।

छात्रों को इन केंद्रों में से किसी एक को चुनना होगा।

 

 

Todays Beets: