Sunday, July 12, 2020

Breaking News

   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||   कानपुर गोलीकांड की जांच के लिए एसआईटी गठित, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट     ||   धमकी देकर फरीदाबाद में रिश्तेदार के घर रुका था विकास, अमर दुबे से हुआ था झगड़ा     ||   राजस्थान: विधायकों को राज्य से बाहर जाने से रोकने के लिए सीमा पर बढ़ाई गई चौकसी     ||   हार्दिक पटेल गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त     ||   गुवाहाटी केंद्रीय जेल में बंद आरटीआई कार्यकर्ता अखिल गोगोई समेत 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव     ||   अमिताभ बच्चन कोरोना पॉजिटिव, नानावती अस्पताल में कराए गए भर्ती     ||   राजस्थान सरकार का प्राइवेट स्कूलों को आदेश- स्कूल खुलने तक फीस न लें     ||   गुजरात सरकार में मंत्री रमन पाटकर कोरोना वायरस से संक्रमित     ||   विकास दुबे पर पुलिस की नाकामी से भड़के योगी, खुद रख रहे ऑपरेशन पर नजर!     ||

मेडिकल और इंजीनिरिंग की परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब साल में 2 बार आयोजित होंगी ‘नीट’ और ‘जेईई’ की परीक्षाएं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मेडिकल और इंजीनिरिंग की परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब साल में 2 बार आयोजित होंगी ‘नीट’ और ‘जेईई’ की परीक्षाएं

नई दिल्ली। मेडिकल और इंजीनियरिंग की प्रतियोगिता परीक्षा देने वाले छात्रों को मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से जल्द ही बड़ा तोहफा दिया जाएगा। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने घोषणा की है कि अगले साल से मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन साल में 2 बार  आयोजित की जाएगी। उन्होंने कहा कि नीट की परीक्षा हर साल फरवरी और मई के महीने में आयोजित की जाएगी वहीं जेईई (मेन्स) की परीक्षा हर साल जनवरी और अप्रैल में कराई जाएगी। मंत्रालय ने कहा कि नेट की परीक्षा दिसंबर में आयोजित की जाएगी। 

ये भी पढ़ें - इंजीनियरिंग और मेडिकल की तैयारी कराने वाले कोचिंग सेंटर अब नहीं वसूल पाएंगे मनमानी फीस, परीक्...


गौरतलब है कि पत्रकारों से बात करते हुए मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि अब नीट, जेईई, नेट परीक्षाओं का आयोजन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी करेगी। बता दें कि अब तक इन परीक्षाओं के आयोजन की जिम्मेदारी सीबीएसई पर थी। प्रकाश जावड़ेकर ने जेईई और नीट में प्रवेश देने के लिए दोनों मौकों में से छात्रों द्वारा हासिल किए गए सर्वाधिक प्राप्तांक पर विचार किया जाएगा। यहां बता दें कि सिलेबस और बाकी की औपचारिकताओं में कोई बदलाव नहीं किया गया है।  

Todays Beets: