Saturday, January 18, 2020

Breaking News

   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||

अब स्कूलों में फेल नहीं होंगे बच्चे, राज्य सभा में संशोधन विधेयक को मिली मंजूरी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब स्कूलों में फेल नहीं होंगे बच्चे, राज्य सभा में संशोधन विधेयक को मिली मंजूरी

नई दिल्ली। अब 8वीं कक्षा तक बच्चे फेल नहीं होंगे। राज्यसभा ने फेल नहीं करने वाले संशोधन विधेयक को मंजूरी दे दी है। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने उच्च सदन में निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार (संशोधन) विधेयक, 2018 पर चर्चा के जवाब में कहा कि अब यह राज्यों के ऊपर निर्भर है कि वे इस नई व्यवस्था को अपनाते हैं या नहीं। मानवा संसाधन विकास मंत्री ने कहा कि स्कूलों में अनुत्तीर्ण होने की स्थिति में बच्चों को उसी कक्षा में रोकने या नहीं रोकने का अधिकार राज्यों के पास होगा।

गौरतलब है कि सदन में इस विधेक को ध्वनिमत से पारित कर दिया है। हालांकि लेफ्ट पार्टी ने इसका विरोध करते हुए सदन से वाॅकआउट किया। बता दें कि लोकसभा में यह विधेयक पहले ही पारित हो चुका है। विधेयक की जरूरत पर  चर्चा करते हुए जावडेकर ने कहा कि अक्सर ऐसा कहा जाता है कि 5वीं कक्षा के छात्रों को तीसरी कक्षा का गणित भी नहीं आता। ऐसे में व्यवस्था में बदलाव की बात की जा रही थी।


ये भी पढ़ें - पुंछ में बर्फीले तूफान की चपेट में आया 40 आर आर का पोस्ट, 1 जवान शहीद और 1 घायल

यहां बता दें कि बदलाव करने से पहले सभी राज्यों के शिक्षा मंत्रियों की मानव संसाधन विकास मंत्री के साथ बैठक हुई थी। मंत्री ने कहा कि स्थाई समिति में भी इस बात पर एकराय थी। इसके साथ ही मंत्री ने कहा कि 8वीं में बोर्ड की परीक्षा नहीं होगी। 

Todays Beets: