Monday, February 24, 2020

Breaking News

   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||

उत्तरप्रदेश में शिक्षा को बेहतर बनाने की कवायद तेज, 14 हजार से ज्यादा शिक्षकों की होगी भर्ती

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तरप्रदेश में शिक्षा को बेहतर बनाने की कवायद तेज, 14 हजार से ज्यादा शिक्षकों की होगी भर्ती

लखनऊ। उत्तरप्रदेश सरकार जल्द ही नौजवानों को नौकरी के बड़े मौके देने जा रही है। प्रदेश में करीब 14 हजार से ज्यादा पदों पर शिक्षकों की भर्ती होने वाली है। इसकी जानकारी खुद उपमुख्यमंत्री डाॅक्टर दिनेश शर्मा ने दी है। उन्होंने बताया कि सरकार से सहायता प्राप्त माध्यमिक स्कूलों में करीब 11000 से ज्यादा पदों पर सहायक शिक्षकों की भर्ती होगी और 2100 प्रवक्ता के पदों पर भर्ती की जाएगी। 

गौरतलब है कि ये सभी भर्तियां माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन आयोग के द्वारा की जाएंगी। उपमुख्यमंत्री ने बताया कि आयोग का भी जल्द ही पुनर्गठन किया जाएगा।  आयोग के पुनर्गठन के बाद शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया जल्द ही शुरू कर दी जाएगी।

ये भी पढ़ें -  सुप्रीम कोर्ट ने कहा-संयुक्त स्नातक और उच्चतर माध्यमिक स्तर परीक्षा 2017 में हुई गड़बड़ी, परिणा...


यहां बता दें कि आयोग के माध्यम से प्रवक्ता के 1344 और सहायक अध्यापक के 7950 पदों पर भर्ती की जा रही है।  इसके अलावा लोकसेवा आयोग के माध्यम से राजकीय इंटर कॉलेजों के लिए 14,562 शिक्षकों पदों पर भर्ती की जा रही है। इनमें 3794 पद प्रवक्ता के हैं और 10,768 पद सहायक अध्यापक के हैं। इन पदों के लिए लिखित परीक्षा हो चुकी है और बस अब उनके परिणाम आना बाकी है। परिणाम आते ही इन सभी को नियुक्ति पत्र प्रदान कर दिया जाएगा और जल्द ही ये बच्चों को ज्ञान देना शुरू कर देंगे। गौर करने वाली बात है कि उपमुख्यमंत्री डाॅक्टर दिनेश शर्मा ने कहा कि शिक्षा सेवा चयन आयोग के गठन के बाद प्रदेश के स्कूलों में शिक्षकों की कमी दूर हो जाएगी।

 

Todays Beets: