Thursday, April 2, 2020

Breaking News

   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||

संगठन को दोबारा खड़ा करने के लिए 'आप' ने बनाई रणनीति, 10 जून को किसानों के मुद्दे पर प्रदर्शन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
संगठन को दोबारा खड़ा करने के लिए

नई दिल्ली । पिछले कुछ समय से आम आदमी पार्टी की होती फजीहत के बीच 'आप' की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की एक बैठक दिल्ली में हुई। इस दौरान एक बार फिर से संगठन को मजबूत करने की रणनीति बनाकर उसपर काम करने का निर्णय लिया गया। इतना ही नहीं इस दौरान पार्टी ने फैसला किया है कि वह किसानों की दुर्दशा और उनके कर्ज माफी को लेकर आगामी 10 जून को देशभर में विरोध प्रदर्शन करेगी। इस दौरान खास बात यह रही कि पार्टी के वरिष्ठ नेता और राजस्थान प्रभारी कुमार विश्वास ने भी बैठक में शिरकत की, जिनके बारे में कहा जा रहा था कि वह पार्टी की नीतियों को लेकर नाराज हैं और कभी भी पार्टी से अलग हो सकते हैं। 

ये भी पढ़ें- बिहार की छवि बाहर के नहीं बल्कि अंदर के लोग ही खराब कर रहे हैं - नीतिश कुमार

बता दें कि पिछले कुछ चुनावों में मिली हार के बीच पार्टी के नेताओं द्वारा वरिष्ठ नेताओं और विधायकों पर गंभीर आरोप लगाने के चलते आम आदमी पार्टी की साख में काफी गिरावट आई है। आप से अलग हुए कपिल मिश्रा द्वारा पार्टी संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री पर कई घोटालों में लिप्त होने और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने के आरोपों के चलते पार्टी नेताओं की खासी फजीहत हुई है। इस सब के बीच संगठन को दोबारा से मजबूती से खड़ा करने की रणनीति के मद्देनजर राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई गई थी। इस बैठक में कई अहम मुद्दों के साथ संगठन को एक बार फिर खड़ा करने के लिए रणनीति बनाने पर चर्चा हुई। 


ये भी पढ़ें- सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने निजी सचिवों को पद से हटाया, टीपी जोशी को दी तैनाती

यूपी सरकार द्वारा किसानों की कर्ज माफी के बाद महाराष्ट्र में किसानों की कर्ज माफी का मुद्दा उठता देख आम आदमी पार्टी ने इस मुद्दे को राष्ट्रीय स्तर पर भुनाने की रणनीति बनाई है। इसी के मद्देनजर निर्णय लिया गया है कि पार्टी आगामी 10 जून को पूरे देश में किसानों की दुर्दशा और उनकी खेती कर्ज माफी को लेकर विरोध प्रदर्शन करेगी। 

ये भी पढ़ें- जेवर कांड की पीड़िता ने किया घर में आत्महत्या का प्रयास, पुलिस पर उदासीनता का लगाया आरोप

Todays Beets: