Thursday, June 27, 2019

Breaking News

   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||   टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद के बीच आईसीसी ने दी सफाई, इंग्लैंड की जर्सी भी नीली इसलिए बदला रंग    ||   PIL की सुनवाई के लिए SC ने जारी किया नया रोस्टर, CJI समेत पांच वरिष्ठ जज करेंगे सुनवाई    ||   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||

सपा ने जारी किया घोषणापत्र, बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक के लिए कई लोकलुभावन योजनाएं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सपा ने जारी किया घोषणापत्र, बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक के लिए कई लोकलुभावन योजनाएं

लखनऊ । यूपी के चुनावी समर में महागठबंधन की कवायदों के बीच सूबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रविवार दोपहर अपनी पार्टी का घोषणापत्र जारी किया। इस दौरान मंच पर अखिलेश के संग उनकी पत्नी डिंपल यादव को दिखी लेकिन समाजवादी पार्टी के नेताजी उर्फ मुलायम सिंह नदारद रहे। इस सब से इतर अखिलेश यादव ने जहां अपना घोषणापत्र जारी करते हुए केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा वहीं बसपा पर भी हमलावर हुए। इस दौरान अखिलेश ने कहा, सपा सरकार ने पूरे राज्य में संतुलित विकास कराने का काम किया है। इसी क्रम में हमने मेट्रो का विस्तार करवाया। इतना ही नहीं राज्य में एक्सप्रेस-वे बनवाया है।

हमारी कथनी-करनी में अंतर नहीं

अखिलेश यादव ने अपने चुनावी घोषणापत्र में कई लोकलुभावन वादों की झड़ी लगाई है। इसमें उन्होंने बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक के लिए कई तरह की योजनाएं बनाने का ऐलान किया है। अपने भाषण में अखिलेश ने कहा कि पिछले पांच साल के दौरान हमने वो काम किए हैं जिनका हमने पिछले घोषणापत्र में जिक्र भी नहीं किया था। उन्होंने अपने समर्थकों से कहा कि मैंने समर्थकों से कहा था, पांच महीने जमकर मेहनत कर लो पांच साल की सरकार मिलेगी। 

जानिए घोषणापत्र में क्या कहा अखिलेश ने...

1-आगरा, मेरठ, कानपुर और बनारस में भी जल्द मेट्रो लाई जाएगी

2-तहसील स्तर पर फैमीली बाजार

3-मजदूरों को सस्ते रेट पर मिड डे मील

4-महिलाओं को बसों के किराए में 50 फीसदी की छूट

5-डेढ़ लाख रुपये से कम की कमाई वाले लोगों को मुफ्त में इलाज

6-एक करोड़ लोगों को एक महीने में एक हजार रु. पेंशन दी जाएगी।


7-गरीब किसानों के जानवरों के लिए एंबुलेंस सेवा शुरू की जाएगी। 

8-प्राथमिक स्कूल के गरीब बच्चों को एक किलो मिल्क पाउडर और एक किलो घी दिया जाएगा।

9-हर जिला फोर लेन हाईवे से जुड़ेगा

10-गरीब लोगों को मुफ्त गेंहू-चावल और जो लोग काम के लिए घर से बाहर जाते हैं उनके लिए भी खाने की व्यवस्था करना।

11-गरीब महिलाओं को फ्री प्रेशन कुकर

12-अल्पसंख्यकों के लिए स्किल डेवलेपमेंट सेंटर बनाए जाएंगे।

भाजपा पर हुए हमलावर

इस दौरान अखिलेश यादव ने भाजपा पर जमकर हल्ला बोलते हुए कहा-केंद्र की मोदी सरकार ने पिछले तीन सालों में देश की जनता को क्या दिया। सबका साथ सबका विकास की बात कहते हुए कभी हाथ में झाड़ू पकड़वा दी तो कभी योगा करता दिया लेकिन विकास के नाम पर उन्होंने क्या किया। अगर कोई हमसे पूछे की हमने क्या विकास किया है तो हम हर जिले के बारे में जानकारी दे सकते हैं। 

बसपा को बताया राजस्व के लिए खतराइसी क्रम में उन्होंने बसपा पर हमला बोलते हुए कहा,ये पत्थर वाली सरकार आजकल बहुत टीवी पर आ रही है। नोएडा में लखनऊ में जो पत्थर लगे हुए हैं उन्हें देखकर तो यही लगता है कि इन्हें मौका मिला तो ये कितने बड़े पत्थर लगा सकते हैं। अगर उन्हें पता चल गया कि महाराष्ट्र सरकार ने शिवाजी की कितनी बड़ी मूर्ति बनवाने की तैयारी की है तो वे भी ऐसा ही कुछ करेंगे और ऐसे में राजस्व का क्या होगा। 

Todays Beets: