Friday, February 28, 2020

Breaking News

   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||

देहरादून को इस बार स्मार्ट सिटी की लिस्ट में जगह मिलेगी! 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
देहरादून को इस बार स्मार्ट सिटी की लिस्ट में जगह मिलेगी! 

देहरादून। राज्य में भाजपा सरकार के गठन के बाद देहरादून को स्मार्ट सिटी बनाने की कवायद तेज हो गई है। हालांकि राज्य में कांग्रेस के शासनकाल में भी इसे स्मार्टसिटी बनाने का प्रस्ताव कई बार केन्द्र को भेजा गया लेकिन हर बार उसे निराशा ही हाथ लगी। चुनाव के दौरान भी दून को स्मार्ट सिटी बनाने की बात कही गई। अब राज्य में भाजपा की सरकार बन चुकी है। ऐसे में इस प्रस्ताव को फिर से केन्द्र सरकार के पास भेजा जा रहा है। देखना है कि इस बार इसे मंजूरी मिलती है या फिर उसे लौटा दिया जाता है?

नए प्रस्ताव में क्या है

इस बार केन्द्र को भेजे जाने वाले प्रस्ताव में शहर में स्मार्ट परिवहन को बढ़ावा दिया जा रहा है। इसमें राज्य में इलेक्ट्रिक एवं सीएनजी बसों के परिचालन पर जोर दिया जा रहा है। शहर के पलटन बाजार को नो ट्रैफिक जोन घोषित करने के साथ वहां सिर्फ ई-रिक्शा ही चलाने की बात कही गई है। नए प्रस्ताव में नगर निगम को ग्रीन बिल्डिंग बनाने का भी विचार रखा गया हैै।

अब मुख्यमंत्री करेंगे आपकी समस्याओं का ‘समाधान’, सरकार ने शुरू की नई वेबसाइट

राजनीतिक आरोप


देहरादून को स्मार्टसिटी बनाने का प्रस्ताव इससे पहले भी तीन बार केन्द्र को भेजा जा चुका है। हर बार किसी न किसी वजह से दून स्मार्ट सिटी की लिस्ट में अपनी जगह नहीं बना सका। इसके लिए कांग्रेस ने केन्द्र पर राज्य के साथ राजनीतिक भेदभाव का आरोप भी लगाया था। कांग्रेस ने कहा कि केन्द्र जानबूझ कर इसे स्मार्ट सिटी की लिस्ट में शामिल नहीं कर रहा है। 

जगह मिलेगी!

अब जबकि प्रदेश और केन्द्र दोनों जगह भाजपा की सरकार है ऐसे में इस बार प्रस्ताव पास होता है या नहीं। उम्मीद तो यही की जा रही है कि जब जनता ने  राज्य में भाजपा का डबल इंजन लगा दिया है तो देहरादून को भी स्मार्ट सिटी की लिस्ट में जगह जरूर मिल जाएगी।   

Todays Beets: