Wednesday, July 17, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

सरकार चाहे तो लोकसभा-विधानसभा चुनाव साथ करा सकते हैं - चुनाव आयोग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सरकार चाहे तो लोकसभा-विधानसभा चुनाव साथ करा सकते हैं - चुनाव आयोग

भोपाल। चुनाव आयोग ने देश में लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने के लिए अपनी तैयारियों के बारे में बताया। इलेक्शन कमिश्नर ओपी रावत ने कहा कि हम देश में लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने की तैयारी सितंबर 2018 तक पूरी कर लेंगे। हालांकि लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराए जाएं या नहीं इसके बारे में अंतिम फैसला सरकार ही लेगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने चुनाव आयोग से दोनों चुनाव एक साथ कराए जाने के बारे में पूछा था कि आयोग के पास इसके लिए क्या व्यवस्था है। इतना ही नहीं आयोग को इसके लिए किन चीजों की जरूरत पड़ेगी। आयोग की मांग पर केंद्र सरकार ने पिछले महीने 15,400 करोड़ रुपये आयोग को दिए हैं।

इलेक्शन कमिश्नर ओपी रावत ने कहा इस बार ईआरओ-नेट का शुभारंभ किया है। यह ऐसी व्यवस्था है जिससे देश के ईआरओ एक साथ जुड़ जाएंगे। इस सब के लिए आयोग के कर्मचारियों को इस नई तकनीक की ट्रेनिंग के साथ ही उसकी पूरी जानकारी दी जाएगी।


चुनावों के बारे में बताते हुए रावत ने बताया कि दोनों चुनाव एक साथ कराने के लिए 40-40 लाख ईवीएम और वीपीपीटी मशीनों की जरूरत है। ऐसे में चुनाव आयोग ने मशीनों के लिए दो कंपनियों को कॉन्ट्रेक्ट दे दिया है। गुजरात और हिमाचल प्रदेश में चुनाव की तारीखों को लेकर उन्होंने कहा कि दोनों राज्यों में चुनाव की तैयारियां पूरी होते ही चुनाव की घोषणा हो जाएगी।

Todays Beets: