Sunday, June 7, 2020

Breaking News

   उत्तराखंड: कोरोना के 46 नए मामले, कुल पॉजिटिव केस हुए 1199     ||   माले: ऑपरेशन समुद्र सेतु के तहत आईएनएस जलश्व से मालदीव में फंसे 700 भारतीय लाए जा रहे वापस     ||   बिहार: ADG लॉ एंड ऑर्डर ने जताई आशंका, प्रवासियों के आने से बढ़ सकता है अपराध     ||   दिल्ली: बीजेपी के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने संभाला अपना पदभार     ||   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||

उपचुनावों में भाजपा की हार के साथ हिट हो गई यह फोटो, जानें फोटो में छिपा यह सच

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उपचुनावों में भाजपा की हार के साथ हिट हो गई यह फोटो, जानें फोटो में छिपा यह सच

नई दिल्ली । यूपी की बहुचर्चित कैराना सीट पर हुए लोकसभा सीट के उपचुनाव में भाजपा को हार का मुंह देखना पड़ा है। इतना ही नहीं देश में 4 सीटों पर हुए लोकसभा उपचुनावों में से मात्र 1 सीट ही भाजपा बचा पाई है। बाकि की तीन सीटों पर भाजपा को हार का मुंह देखना पड़ा है। जहां एक ओर भाजपा की इस हार को केंद्रीय गृहमंत्री ने लंबी छलांग से पहले दो कदम पीछे होना बताया वहीं विधानसभा सीटों पर भी भाजपा की हार के बाद 8 दिन पुरानी एक फोटो सुर्खियों में आ गई है। यह फोटो और कुछ नहीं बल्कि कर्नाटक के सीएम कुमार स्वामी के शपथ ग्रहण समारोह के दौरान एकजुटे हुए विपक्षी दलों के नेताओं की एक समूह फोटो है। यह फोटो सोशल मीडिया पर काफी सुर्खिया बंटोर रही है, जिसमें केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ एकजुट हुए विपक्ष को आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर तैयार कहा जा रहा है। 

ये भी पढ़े - उपचुनावों पर हार से NDA के दलों में दरार!, JDU बोली- हार के लिए मोदी सरकार की नीतियां जिम्मेदार

खास बात ये है कि इन उपचुनावों में जिन राज्यों में उपचुनाव हुए वहां के जिन दलों के नेता इस फोटो में शामिल हैं, उन सभी ने भाजपा को हराने मे कामयाबी हासिल की है। चाहे बात सपा प्रमुख अखिलेश यादव की हो, या रालोद प्रमुख चौधरी अजीत सिंह की। इन दलों के उम्मीदवारों ने यूपी में भाजपा को धूल चटा दी। बिहार में राजद की ओर से इस फोटो में तेजस्वी यादव मौजूद दिखे, तो उनकी पार्टी ने भी जोकीहाट सीट पर कब्जा कर लिया। ममता बनर्जी भी इस मंच पर और फोटो में शामिल थी। अब उनकी पार्टी ने भी पश्चिम बंगाल की महेश्ताला सीट पर कब्जा किया है।

ये भी पढ़े - जनता बेहद गुस्सा में, कह रही है मोदीजी विकल्प नहीं, पहले इन्हें हटाओ - केजरीवाल

बता दें कि कैराना लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी मृगांका सिंह और आरएलडी से विपक्ष की संयुक्त उम्मीदवार तबस्सुम हसन के बीच चुनावी जंग थी । इसमें तबस्सुम हसन ने मृगांका सिंह को बड़े अंतर से हराया । बता दें कि राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष चौधरी अजीत सिंह भी उस मंच पर मौजूद थे जहां विपक्ष एकजुट दिखा था और उनकी ही पार्टी की तबस्सुम हसन ने जीत दर्ज की है।

इसी क्रम में यूपी की नूरपुर सीट पर भाजपा के अवनी सिंह और सपा नईम-उल-हसन के बीच यहां कांटे की टक्कर थी, लेकिन सपा के नईम-उल-हसन 6 हजार से ज्यादा वोटों से जीतने में कामयाब रहे । 


ये भी पढ़े - उधर मोदी ने इंडोनेशिया में मूडीज की रेटिंग का किया जिक्र , इधर  मूडीज ने केंद्र सरकार को दिया ये बड़ा झटका

बहरहाल , इस फोटो के साथ यूपी की कैराना सीट पर रालोद उम्मीदवार की जीत को लेकर अब विपक्षी दलों के इन नेताओं के बयान आने शुरू हो गए हैं। सभी लोग एक बार फिर से गठबंधन की जीत करार दे रहे हैं। इतना ही नहीं इसी तरह एकजुट रहते हुए 2019 में होने वाले विधानसभा चुनावों में भी भाजपा को हराने के लिए एक साथ होने का ऐलान कर रहे हैं। तो चलिए देखिए कैरानी में भाजपा की हार पर किसने क्या कहा...

ये भी पढ़े - BIHAR Bypoll LIVE - लालूवाद की जीत हुई, नफरत फैलाने वालों की हार- तेजस्वी यादव

अखिलेश यादव - कैराना और नूरपुर उपचुनाव में भाजपा की हार के बाद यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि ये जीत सभी दलों की जीत है। भाजपा ने जनता को मुद्दों से भटकाने की कोशिश की थी। बावजूद इसके जनता ने मुद्दे को चुना। जनता भाजपा के बहकावे में नहीं आई। इसके साथ ही अखिलेश यादव ने कहा कि कैराना और नूरपुर में भाजपा भी हार हुई है, लेकिन किसानों, दलित, पिछड़े और मजदूरों की जीत हुई है। ये चौधरी चरण सिंह जी की विरासत की जीत है। ये लोहिया की जीत है और अगर किसी की हार हुई है तो देश में नफरत फैलाने वालों की हार हुई है।

जयंत यादव - इसी क्रम में रालोद नेता जयंत चौधरी ने कैराना में उनकी पार्टी के उम्मीदवार के जीतने पर जनता का आभार प्रकट करने के साथ ही कैराना की जीत के लिए मायावती जी, अखिलेश जी को भी धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा - कैराना उपचुनाव में समर्थन देने वाले सभी दलों का शुक्रिया । इस दौारान उन्होंने रालोद को समर्थन के लिए सोनिया और राहुल गांधी का भी आभार प्रकट किया ।  

Todays Beets: