Tuesday, July 16, 2024

Breaking News

   एमसीडी में एल्डरमैन की नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका पर SC 8 मई को करेगा सुनवाई     ||   यूक्रेन से युद्ध में दिसंबर से अब तक रूस के 20000 से ज्यादा लड़ाके मारे गए: अमेरिका     ||   IPL: मैच के बाद भिड़ गए थे गौतम गंभीर और विराट कोहली, लगा 100% मैच फी का जुर्माना     ||   पंजाब में 15 जुलाई तक सरकारी कार्यालयों में सुबह 7:30 बजे से दोपहर दो बजे तक होगा काम     ||   गैंगस्टर टिल्लू की लोहे की रोड और सूए से हत्या, गोगी गैंग के 4 बदमाशों ने किया हमला     ||   सुप्रीम कोर्ट ने 'द केरल स्टोरी' पर बैन लगाने की मांग वाली याचिका पर तुरंत सुनवाई से किया इनकार     ||   नीतीश कटारा हत्याकांड: SC में नियमित पैरोल की मांग करने वाली विशाल यादव की याचिका खारिज     ||   'मैंने सिर्फ इस्तीफा दिया है, बाकी काम करता रहूंगा' नेताओं के मनाने पर बोले शरद पवार     ||   सोनिया गांधी दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में भर्ती    ||   कर्नाटक हिजाब केस में SC ने तुरंत सुनवाई से इंकार किया    ||

 उत्तरप्रदेश सचिवालय में होगी हजारों पदों पर भर्ती, जल्द ही निकाले जाएंगे आवेदन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
 उत्तरप्रदेश सचिवालय में होगी हजारों पदों पर भर्ती, जल्द ही निकाले जाएंगे आवेदन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार नौजवानों को जल्द ही नौकरी का बड़ा मौका देने जा रही है। उत्तरप्रदेश सचिवालय में खाली पड़े हजारों पदों की भर्ती के लिए उत्तरप्रदेश लोक सेवा आयोग के पास अधिचायन भेजा है। इस पर जल्द ही भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। भर्ती प्रक्रिया पूरी होने पर सचिवालय में कर्मचारियों की कमी दूर हो जाएगी। 

सचिवालय प्रशासन विभाग ने समीक्षा अधिकारी के 441, 

समीक्षा अधिकारी लेखा के 47 पद, 

सहायक समीक्षा अधिकारी के 327, 

सहायक समीक्षा अधिकारी लेखा के 25 पदों पर भर्ती किया जाएगा। इन पदों पर भर्ती के लिए लोक सेवा आयोग इलाहाबाद को अधियाचन भेजा जा चुका है। इसी प्रकार कंप्यूटर सहायक के 144 पद, विधान भवन रक्षक के 69 पद और विधानभवन आग्नेय रक्षक के 13 पदों पर भर्ती के लिए अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को अधियाचन भेजा जा चुका है। इन पदों पर भर्ती के साथ ही सचिवालय में स्वीकृत सभी पद भर जाएंगे। 


ये भी पढ़ें - उत्तराखंड मेट्रो रेल काॅरपोरेशन करेगा कई पदों पर भर्तियां, इच्छुक उम्मीदवार करें आवेदन

इन पदों पर भर्ती होने के बाद यूपी में अधिकारियों और कर्मचारियों की कमी दूर हो जाएगी। गौर करने वाली बात है कि अगस्त महीने में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सचिवालय प्रशासन विभाग की समीक्षा के दौरान लोक सेवा आयोग और अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को भेजे गए अधियाचन के लंबित होने के कारणों को पूछा था। कार्मिक विभाग को निर्देशित किया था कि दोनों आयोगों से समन्वय कर भर्ती प्रक्रिया शुरू कराएं। 

मुख्यमंत्री ने दोनों आयोगों के अध्यक्ष और सचिव के साथ बैठक कराने की बात कही थी। सचिवालय प्रशासन विभाग के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, इस संबंध में कार्मिक विभाग को पत्र भेजा गया है। उम्मीद जताई जा रही है कि अगले दो-चार महीनों के अंदर ही आयोग सचिवालय सेवा के रिक्त पदों के लिए विज्ञापन निकालना शुरू कर देंगे।

 

 

Todays Beets: