Friday, April 23, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

 उत्तरप्रदेश सचिवालय में होगी हजारों पदों पर भर्ती, जल्द ही निकाले जाएंगे आवेदन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
 उत्तरप्रदेश सचिवालय में होगी हजारों पदों पर भर्ती, जल्द ही निकाले जाएंगे आवेदन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार नौजवानों को जल्द ही नौकरी का बड़ा मौका देने जा रही है। उत्तरप्रदेश सचिवालय में खाली पड़े हजारों पदों की भर्ती के लिए उत्तरप्रदेश लोक सेवा आयोग के पास अधिचायन भेजा है। इस पर जल्द ही भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। भर्ती प्रक्रिया पूरी होने पर सचिवालय में कर्मचारियों की कमी दूर हो जाएगी। 

सचिवालय प्रशासन विभाग ने समीक्षा अधिकारी के 441, 

समीक्षा अधिकारी लेखा के 47 पद, 

सहायक समीक्षा अधिकारी के 327, 

सहायक समीक्षा अधिकारी लेखा के 25 पदों पर भर्ती किया जाएगा। इन पदों पर भर्ती के लिए लोक सेवा आयोग इलाहाबाद को अधियाचन भेजा जा चुका है। इसी प्रकार कंप्यूटर सहायक के 144 पद, विधान भवन रक्षक के 69 पद और विधानभवन आग्नेय रक्षक के 13 पदों पर भर्ती के लिए अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को अधियाचन भेजा जा चुका है। इन पदों पर भर्ती के साथ ही सचिवालय में स्वीकृत सभी पद भर जाएंगे। 


ये भी पढ़ें - उत्तराखंड मेट्रो रेल काॅरपोरेशन करेगा कई पदों पर भर्तियां, इच्छुक उम्मीदवार करें आवेदन

इन पदों पर भर्ती होने के बाद यूपी में अधिकारियों और कर्मचारियों की कमी दूर हो जाएगी। गौर करने वाली बात है कि अगस्त महीने में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सचिवालय प्रशासन विभाग की समीक्षा के दौरान लोक सेवा आयोग और अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को भेजे गए अधियाचन के लंबित होने के कारणों को पूछा था। कार्मिक विभाग को निर्देशित किया था कि दोनों आयोगों से समन्वय कर भर्ती प्रक्रिया शुरू कराएं। 

मुख्यमंत्री ने दोनों आयोगों के अध्यक्ष और सचिव के साथ बैठक कराने की बात कही थी। सचिवालय प्रशासन विभाग के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, इस संबंध में कार्मिक विभाग को पत्र भेजा गया है। उम्मीद जताई जा रही है कि अगले दो-चार महीनों के अंदर ही आयोग सचिवालय सेवा के रिक्त पदों के लिए विज्ञापन निकालना शुरू कर देंगे।

 

 

Todays Beets: