Friday, April 23, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

फुलक्रम दूध पिएं और अपने दिल को रखेें सेहतमंद, शोध में हुआ खुलासा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
फुलक्रम दूध पिएं और अपने दिल को रखेें सेहतमंद, शोध में हुआ खुलासा

नई दिल्ली। आज के नौजवान अपने स्वास्थ्य को लेकर काफी सजग हैं। ऐसे में वे अपने खान-पान का भी खास ख्याल रखते हैं। नौजवानों का अक्सर ऐसा मानना है कि फुलक्रीम दूध से शरीर में चर्बी बढ़ जाती है, यही वजह है कि वे टोंड दूध पीने मंे ज्यादा यकीन रखते हैं। क्या आपको पता है कि फुलक्रीम दूध दिल के लिए काफी अच्छा माना गया है। 

गौरतलब है कि कनाडा के मैकमास्टर विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने 21 देशों के 35 से 70 वर्ष के बीच के 1,36,384 लोगों पर अध्ययन किया गया। 9 सालों के दौरान हुए इस अध्ययन में डेयरी उत्पादों के सेवन से स्वास्थ्य पर असर की निगरानी की गई। अध्ययन के लिए प्रतिभागियों को 4 अलग-अलग श्रेणियों में विभाजित किया गया। एक में जिन्होंने डेयरी उत्पाद बिल्कुल नहीं खाया, दूसरे में जिन्होंने एक दिन में एक बार, तीसरे में एक दिन में दो बार और चैथे में एक दिन में दो बार से अधिक बार खाने वालों को रखा गया।


ये भी पढ़ें - इन प्राकृतिक उपायों को अपनाएं और मलेरिया-चिकनगुनिया को दूर भगाएं

आपको बता दें कि शोध में इस बात का खुलासा हुआ कि डेयरी उत्पाद न लेने वालों के मुकाबले जिन लोगों ने एक दिन में दो से अधिक बार डेयरी उत्पाद लिए थे, उनमें मृत्यु दर कम थी और दिल की बीमारी कार्डियोवैस्कुलर होने या स्ट्रोक का खतरा कम था। यहां गौर करने वाली बात है कि अध्ययन के नतीजे द लैंसेंट जर्नल में प्रकाशित हुए हैं। ऐसे में डेयरी उत्पादों को खाने से किसी तरह का परहेज नहीं करना चाहिए।  

Todays Beets: