Tuesday, January 21, 2020

Breaking News

   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||

क्या आप मोटापे से हैं परेशान, जमकर खाएं गोलगप्पे और चर्बी को दूर भगाएं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
क्या आप मोटापे से हैं परेशान, जमकर खाएं गोलगप्पे और चर्बी को दूर भगाएं

नई दिल्ली। गर्मी हो या फिर बारिश का मौसम गोलगप्पे खाने का अपना ही मजा है। अक्सर गोलगप्पा खाने वालों को चटोर कहा जाता है और यह भी कहा जाता है कि इसे खाने से एसीडिटी की समस्या होने के साथ दूसरे तरह की परेशानियां हो जाती हैं। आपको इस बात की जानकारी शायद ही होगी गोलगप्पा खाने के कई फायदे भी हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि गोलगप्पा खाने से आपका वजन कम हो सकता है। 

वजन होगा कम 

हरदिल अजीज गोलगप्पा, बताशा या पानीपुरी के पानी को थोड़ी सावधानी के साथ बनाया जाए तो यह बढ़ते वजन की आपकी बहुत बड़ी समस्या में राहत दिला सकता है। सबसे पहली बात तो यह कि इसमें मीठा बिलकुल न हो और पुदीना, हींग, नींबू व कच्चा आम मिला दिया जाए। पानी में टमाटर का भी उपयोग न किया गया हो तो बेहतर है। साथ ही गोलगप्पे को रवे की बजाए आटे से बनाना व कम तलना फायदेमंद रहेगा। 

मुंह के छाले ठीक करने में मददगार

पुचके के पानी का तीखा और खट्टा स्वाद मुंह के छालों में राहत दिलाने का काम करता है। इसमें जलजीरा, पुदीना व इमली होती है। इनका तीखापन व खट्टापन पेट साफ करने के साथ छालों का पानी निकालकर उन्हें सूखा देता है। 

एसिडिटी में लाभ 

सफर के दौरान कुछ लोगों को बंद माहौल में घुटन महसूस होती है। कभी-कभी मितली भी महसूस होने लगती है। ऐसे में आटे से बने 3-4 गोलगप्पे खा लेने से तुरंत आराम मिलता है। 


बिगड़ा मूड बनाए  

गर्मी के दिनों में बाहर घूमने से प्यास ज्यादा लगती है और थकावट महसूस होती है। ऐसी स्थिति में केवल पानी पीने के बजाए पहले कुछ गोलगप्पे खा लें। यदि आप गोलगप्पे खाने के बाद पानी पीते हैं तो आपको एकदम फ्रेश-फ्रेश फील होता है। 

दोपहर में खाना फायदेमंद  

गोलगप्पे खाने के लिए दोपहर का समय सबसे सही होता है। शाम के समय पानी पताशे खाने से वजन बढ़ने की आशंका रहती है। साथ ही कसरत करने से पहले या बाद में गोलगप्पे खाना भी नुकसान करता है। 

आटे से बने गोलगप्पे खाएं 

गोलगप्पे हमेशा आटे वाला ही खाना चाहिए। यह आपके वजन कम करने में आपकी मदद करेगा। इसके साथ ही गोलगप्पे में भरने के लिए छोले या मटर के बजाए मूंग या चने की दाल का प्रयोग ज्यादा लाभदायक साबित होता है। 

Todays Beets: