Friday, September 24, 2021

Breaking News

   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||   तालिबान की अमेरिका को धमकी, 31 अगस्त के बाद भी रही सेना तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे    ||   कर्नाटक CM से स्थानीय BJP विधायक की मांग- कोरोना के चलते किसी भी हिंदू पर्व पर ना लगे बंदिशें    ||   तेजप्रताप की नाराजगी के सवाल पर बोले तेजस्वी- राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर ही देंगे जवाब    ||   अंडमान एंड निकोबार के पोर्ट ब्लेयर में महसूस किए गए 4.3 तीव्रता के भूकंप     ||   दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कनॉट प्लेस पर भारत के पहले स्मॉग टावर का उद्घाटन किया     ||   गुजरात में शराबबंदी के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका मंजूर, 12 अक्टूबर को होगी सुनवाई     ||   सिंगापुर के स्वास्थ्य मंत्री ने चेताया, आर्थिक गतिविधियां खुलने के साथ ही बढ़ सकते हैं कोरोना के मामले     ||   पत्नी शालिनी के आरोपों पर बोले हनी सिंह- सभी आरोप गलत, कोर्ट में चल रहा केस     ||   रांचीः महिला हॉकी में झारखंड से शामिल हर खिलाड़ियों को मिलेंगे 50-50 लाख रुपयेः CM हेमंत सोरेन     ||

दहशतगर्द तलिबानी खुद हुए आतंकी हमले का शिकार , 28 लड़ाके सीरियल ब्लास्ट में मारे गए

अंग्वाल न्यूज डेस्क
दहशतगर्द तलिबानी खुद हुए आतंकी हमले का शिकार , 28 लड़ाके सीरियल ब्लास्ट में मारे गए

नई दिल्ली । दुनिया के लिए आतंक का पर्याय बन चुके तालिबान को गुरुवार शाम खुद एक आतंकी वारदात का खामियाजा भुगतना पड़ा । काबुल एयरपोर्ट के करीब हुए सीरियल ब्लास्ट में जहां 13 अमेरकी कमांडो मारे गए हैं , वहीं इस आतंकी हमले में 28 तालिबानी लड़ाकों की भी मौत हो गई है । तालिबान का कहना है कि ये सभी लड़ाके एयरपोर्ट की सुरक्षा में तैनात हैं , उन्होंने इस सीरियल ब्लास्ट में अमेरिका से दोगुने से ज्यादा लोगों को खोया है ।

बता दें कि काबुल एयरपोर्ट से अमेरिकी सैना के कब्जे को हटाने के लिए तालिबान ने अमेरिकी प्रशासन को चेतावनी देते हुए 31 अगस्त तक देश छोड़कर जाने की बात कही थी । तालिबान ने कहा था कि समयसीमा के बाद अमेरिका को और मौका नहीं दिया जाएगा । वहीं अमेरिका ने भी चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर अफगानिस्तान में उनके लोगों को कुछ हुआ तो , तालिबान को इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे ।

बहरहाल , इस आतंकी हमले में अमेरिका ने अपने 13 कमांडो खोए हैं , जिसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा है कि वह आतंकियों को चुन चुनकर मारेंगे । इसके लिए समय और जगह वह खुद चुनेंगे।

तालिबान राज में यह पहला आतंकी हमला है । हालांकि इस आतंकी हमले की जिम्मेदार आईएसआईएस (खुरसान ) ने ली है । इस सबके बीच एक बार फिर से काबुल एयरपोर्ट से लोगों को निकालने का काम शुरू हो गया है । तालिबान ने हाल में ऐलान किया था कि वह अब किसी भी अफगानिस्तानी को देश से नहीं जाने देंगे । अब ऐसे समय में जब आतंकी संगठनों द्वारा आगे भी ऐसे ब्लास्ट की आशंका जताई जा रही हो , अफगानिस्तान में मौजूद दुनिया भर के लोगों को सुरक्षित देश से निकालना एक बड़ी चुनौती है ।


 

 

 

blast in kabul airport    new defence minister of taliban    taliban appointed    mullah abdul qayyum zakir    interim defence minister afghanistan    America alert    US alert for americans    Terrorist Attack at Kabul Airport    kabul Airport Taliban    afghanistan crisis taliban taliban announce      afghans america    evacuation flights kabul airport    Zabiullah Mujahid taliban spokes person kabul airport    news in hindi    kabul news       afghanistan news    hindi khaber    national news अफगानिस्तान    काबुल एयरपोर्ट    तालिबान    तालिबान की चेतावनी    जबीउल्लाह मुजाहिद    अमेरिका तालिबानी लड़ाके    अमेरिका की कार्यवाही   खबरें हिंदी में    हिंदी खबर    वॉशिंगटन    अफगानिस्तान    तालिबान       काबुल एयरपोर्ट       अमेरिका    बड़ा खतरा    चेतावनी   US Warns Terror Attack threat at Kabul Airport    मुल्ला उमर    तालिबान का संस्थापक       आतंकी मुल्ला अब्दुल कय्यूम जाकिर    ग्वांतनामो जेल       अमेरिका की जेल क्यूबा में   

Todays Beets: