Thursday, June 30, 2022

Breaking News

   मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया, कुलगाम में बैंक मैनेजर की हत्या में शामिल था: IGP कश्मीर     ||   जालंधर: अरविंद केजरीवाल के दौरे से पहले दीवारों पर लिखे मिले खालिस्तान के सपोर्ट वाले स्लोगन     ||   पुलिस लॉरेंस बिश्नोई को लेकर मोहाली पहुंची, अज्ञात जगह हो रही पूछताछ     ||   राष्ट्रपति चुनाव: ममता बनर्जी की मीटिंग में जाएंगे मल्लिकार्जुन खड़गे और जयराम रमेश     ||   दिल्ली: कांग्रेस कार्यकर्ताओं का उग्र प्रदर्शन, बैरिकेड तोड़े, टायर जलाए     ||   सुवेंदु अधिकारी समेत निलंबित भाजपा विधायकों ने पश्चिम बंगाल विधानसभा में धरना दिया     ||   18 जून को 100 साल की हो जाएंगी नरेंद्र मोदी की मां हीराबा, मिलने जाएंगे पीएम     ||    रोडरेज मामले में सिद्धू को 1 साल कठोर कारावास की सजा, SC ने 34 साल पुराने केस में सुनाई सज़ा    ||   बिहार विधानसभा में कानून व्यवस्था को लेकर हंगामा, CPI-ML के 12 विधायकों को किया गया बाहर     ||   गौतमबुद्ध नगर के तीनों प्राधिकरणों के 49,500 करोड़ नहीं चुका रहीं रियल एस्टेट कंपनियां     ||

एकनाथ शिंदे का दावा - हमारी शिवसेना असली , भरत गोलावले को नियुक्त किया चीफ व्हिप , हिंदुत्व का उठाया मुद्दा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
एकनाथ शिंदे का दावा - हमारी शिवसेना असली , भरत गोलावले को नियुक्त किया चीफ व्हिप , हिंदुत्व का उठाया मुद्दा

मुंबई । महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिवसेना में जारी आंतरिक कलह अब व्यापक रूप लेते हुए सरकार के अस्तित्व पर सवाल उठाने लगी है । असल में शिवसेना के बागी दिग्गज नेता एकनाथ शिंदे ने बुधवार को दावा करते हुए कह दिया है कि वह असली शिवसेना है । उन्होंने कहा कि हमारे साथ अभी 46 विधायक हैं , इसमें शिवसेना के और अन्य दलों के विधायक हैं । इस दौरान उन्होंने एक पत्र जारी करते हुए भरत गोगावले (Bharat Gogavale) को नई चीफ व्हिप (Chief Whip) नियुक्त किया है । इस पत्र के में सीएम उद्धव ठाकरे के द्वारा नियुक्त किए गए सुनील प्रभु (Sunil Prabhu) को अवैध करार दिया गया है । ऐसे में सुनील प्रभु द्वारा जो व्हिप जारी किया गया है वह कानूनी तौर पर अवैध है । इस पत्र में शिवसेना के 34 विधायकों को हस्ताक्षर है । ऐसे में सरकार पर संकट के बादल छा गए हैं । 

बता दें कि, इस सबसे इतर आज महाराष्ट्र कैबिनेट की बैठक हुई है । कोविड-19 से संक्रमित होने के कारण सीएम उद्धव ठाकरे बैठक में वर्चुअली मौजूद रहे । कैबिनेट बैठक खत्म होने के बाद शिवसेना ने अपने सभी विधायकों को व्हिप जारी किया है । सभी को शाम पांच बजे उद्धव ठाकरे के आधिकारिक आवास वर्षा पर पहुंचने का आदेश दिया गया है ।  साथ ही कहा गया कि अगर कोई विधायक नहीं पहुंचता है तो उसपर कार्रवाई की जाएगी ।  इस बैठक में जो भी विधायक शामिल नहीं होंगे उनकी सदस्यता रद्द की जा सकती है । 

इसके बाद एकनाथ शिंदे ने अपने बयान में कहा है कि मुझे बागी कहा जा रहा है लेकिन यह गलत है हम सभी लोग बाला साहेब ठाकरे के भक्त हैं, हम ही असली  शिवसैनिक हैं ।  उन्होंने दावा करते हुए कहा कि मेरे साथ इस वक्त 46 विधायक हैं और इसमें संख्या और बढ़ेगी । 


एकनाथ शिंदे ने ट्वीट कर कहा कि शिवसेना विधायक भरत गोगावले को शिवसेना विधानमंडल का मुख्य प्रतिनिधि नियुक्त किया गया है ।  कारण ये है कि सुनील प्रभु द्वारा विधायकों की आज की बैठक के संबंध में जारी आदेश कानूनी रूप से अमान्य है ।  

उन्होंने कहा कि मैं साफ कर रहा हूं कि हम बाला साहेब के हिंदुत्व को आगे लेकर जाएंगे । अभी आगे की जो रणनीति है , उस पर बाद में मिलकर बैठकर करके तय करेंगे और जब तय होगा जब मीडिया को बताया जाएगा । 

उनपर भाजपा नेताओं के संपर्क में होने के सवाल पर कहा - मैं अभी किसी के टच में नहीं हूं , मैं सिर्फ अपने विधायकों के साथ हूं, मुझे कोई कहीं लेकर नहीं गया है । मैं खुद गुवाहटी अपने विधायकों के साथ आया हूं ।

Todays Beets: