Friday, September 24, 2021

Breaking News

   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||   तालिबान की अमेरिका को धमकी, 31 अगस्त के बाद भी रही सेना तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे    ||   कर्नाटक CM से स्थानीय BJP विधायक की मांग- कोरोना के चलते किसी भी हिंदू पर्व पर ना लगे बंदिशें    ||   तेजप्रताप की नाराजगी के सवाल पर बोले तेजस्वी- राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर ही देंगे जवाब    ||   अंडमान एंड निकोबार के पोर्ट ब्लेयर में महसूस किए गए 4.3 तीव्रता के भूकंप     ||   दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कनॉट प्लेस पर भारत के पहले स्मॉग टावर का उद्घाटन किया     ||   गुजरात में शराबबंदी के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका मंजूर, 12 अक्टूबर को होगी सुनवाई     ||   सिंगापुर के स्वास्थ्य मंत्री ने चेताया, आर्थिक गतिविधियां खुलने के साथ ही बढ़ सकते हैं कोरोना के मामले     ||   पत्नी शालिनी के आरोपों पर बोले हनी सिंह- सभी आरोप गलत, कोर्ट में चल रहा केस     ||   रांचीः महिला हॉकी में झारखंड से शामिल हर खिलाड़ियों को मिलेंगे 50-50 लाख रुपयेः CM हेमंत सोरेन     ||

यूपी चुनावों से पहले सपा में शामिल हुए मुख्तार के बड़े भाई , अंबिका चौधरी की भी घर वापसी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूपी चुनावों से पहले सपा में शामिल हुए मुख्तार के बड़े भाई , अंबिका चौधरी की भी घर वापसी

लखनऊ । यूपी विधानसभा चुनावों को लेकर एक बार फिर से नेताओं का दूसरे दलों में आने जाने का क्रम शुरू हो गया है। बाहुबली मुख्तार अंसारी के बड़े भाई सिबगतुल्लाह अंसारी ने यूपी चुनावों से पहले अपने साथियों के साथ समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है । अंसारी 2007 में सपा और 2012 में कौमी एकता पार्टी गाजीपुर की मोहब्बताबाद सीट से विधायक रहे ।2017 में वो बसपा के टिकट पर मैदान में उतरे थे , लेकिन हार गए थे। खुद अखिलेश यादव ने अंसार समेत उनके समर्थकों को सदस्यता ग्रहण करवाई । इसी क्रम में पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी ने भी सपा का दामन थाम  लिया है। 

विदित हो कि मुख्तार अंसारी के जेल में बंद होने के चलते उनके क्षेत्र में परिवार के राजनीतिक रुतबे को बरकरार रखने के लिए सिबगतुल्लाह अंसारी ने सपा के टिकट पर मैदान में उतने का मन बनाया है । हाल में संपन्न हुए पंचायती चुनाव में ही उन्होंने सपा में शामिल होने के संकेत दे दिए थे । 


इसी क्रम में पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी ने फिर से समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है । अंबिका चौधरी फेकना विधानसभा सीट से वर्ष 1993 से लगातार चार बार विधायक रहे । वर्ष 2003 से 2007 की मुलायम सिंह सरकार में वह राजस्व मंत्री के पद पर भी रहे। एक बार फिर से सपा में शामिल होने हुए वह भावुक हो गए । 2017 में भाजपा उम्मीदवार से हारने के बाद उन्होंने बसपा का दामन थाम लिया था । हालांकि पंचायत चनावों में बेटे को सपा के टिकट पर उतारकर उन्होंने सपा में वापस लौटने के संकेत दे दिए थे ।   

Todays Beets: