Friday, April 23, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

सचिन वाजे के वसूली कांड का राज खोलेगी ''सीक्रेट डायरी'' , एनआईए द्वारा बरामद डायरी में कोड में पब और रकम का जिक्र

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सचिन वाजे के वसूली कांड का राज खोलेगी

मुंबई । उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर एक कार में मिली जिलेटिन की छड़ों से शुरू हुई साजिश की राष्ट्रीय जांच एजेंसी यानी एनआईए जांच कर रही है । एनआईए को अपनी जांच के दौरान सीआईयू ऑफिस से एक सीक्रेट डायरी मिली है , जिसमें काफी कुछ सीक्रेट भाषा में लिखा है । इस डायरी को मुंबई के वसूली गैंग से जोड़कर देखा जा रहा है , जिसमें पब - रेस्टोरेंट से 100 करोड़ की वसूली के आरोप मुंबई पुलिस के अफसरों पर लगे हैं । इस सबके बीच कहा जा रहा है कि एनआईए को जो डायरी मिली है , उसमें लिखी सीक्रेट भाषा पब - रेस्टोरेंट के नाम और उनसे उगाही गई रकम है । 

मिली जानकारी के अनुसार , मुंबई पुलिस के अफसर सचिन वाजे वसूली का काम खुद नहीं किया करते थे , बल्कि उनके लिए यह काम कुछ अपराधी करते थे और बाद में उनतक रकम पहुंचाई जाती थी । वहीं सीआईयू ऑफिस से जो डायरी एनआईए के हाथ लगी है , उसमें कुछ बुकी से भी वसूली का जिक्र है । 

सूत्रों का कहना है कि एनआईए के हाथ लगी डायरी में कुछ होटल - रेस्टोरेंट , पब और उद्योगपतियों के नाम लिखे गए हैं । इस डायरी में जो भी डिटेल लिखी गई है , वो जनवरी से अब तक की है । विदित हो कि इस वसूली गैंग के बारे में मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमवीर सिंह ने भी अपनी चिट्ठी में किया था । 


हालांकि इस डायरी के मिलने के बाद भी एनआईए अफसरों का कहना है कि उनकी जांच का मुख्य बिंदू अभी भी एंटीलिया के बाहर से जिलेटिन की छड़ों का मिलना है । 

 

Todays Beets: