Tuesday, October 26, 2021

Breaking News

   52वां इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया 20 से 28 नवंबर तक गोवा में होगा     ||   पीएम मोदी की अपील- मेड इन इंडिया सामान खरीदने पर जोर दें, इसके लिए सब प्रयास करें     ||   भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर बिल गेट्स ने दी पीएम मोदी को बधाई     ||   सेना की 39 महिला अफसरों की बड़ी जीत, मिलेगा स्थायी कमीशन; SC ने दिया आदेश     ||   बिहार में महागठबंधन टूटा, कांग्रेस का ऐलान 2024 के आम चुनाव में सभी 40 सीटों पर लड़ेगी पार्टी     ||   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||   तालिबान की अमेरिका को धमकी, 31 अगस्त के बाद भी रही सेना तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे    ||   कर्नाटक CM से स्थानीय BJP विधायक की मांग- कोरोना के चलते किसी भी हिंदू पर्व पर ना लगे बंदिशें    ||   तेजप्रताप की नाराजगी के सवाल पर बोले तेजस्वी- राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर ही देंगे जवाब    ||   अंडमान एंड निकोबार के पोर्ट ब्लेयर में महसूस किए गए 4.3 तीव्रता के भूकंप     ||

LIVE - गर्मजोशी से मिले मोदी - बाइडेन , अमेरिकी राष्ट्रपति बोले - अहिंसा - सहिष्णुता को याद रखना है

अंग्वाल न्यूज डेस्क
LIVE - गर्मजोशी से मिले मोदी - बाइडेन , अमेरिकी राष्ट्रपति बोले - अहिंसा - सहिष्णुता को याद रखना है

नई दिल्ली । आखिरकार जिसका इंतजार किया जा रहा था वो पल आया और क्या खूब तरीके से आया । जैसी उम्मीद की जा रही थी शुक्रवार देर शाम अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडेन ने प्रधानमंत्री मोदी से बड़ी गर्मजोशी से मुलाकात की । इस दौरान जहां भारतीय प्रधानमंत्री मोदी ने कहा - यह दशक भारत और अमेरिका के लिए काफी अहम होने वाला है । अमेरिकी राष्ट्रपति का विजन काफी प्रेरक है । वहीं जो बाइडेन ने कहा कि हमारी साझेदारी इस दौरान बढ़ गई है यह रिश्ते और मजबूत होंगे । पीएम मोदी के व्हाइट हाउस आने से खुश हूं । वहीं बाइडेन ने कहा कि गांधी के पैगाम को याद रखना जरूरी । अहिंसा और सहिष्णुता को याद रखना है । इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि आज हम जो बीज बोएंगे उसका लाभ पूरी दुनिया को मिलेगा । 

बाइडेन बोले - वैश्विक चुनौतियों का समाधान करने में मदद

पीएम मोदी से मुलाकात के दौरान बाइडेन ने कहा - मुझे लंबे समय से विश्वास है कि अमेरिका-भारत के बीच के संबंध हमें कई वैश्विक चुनौतियों का समाधान करने में मदद कर सकते हैं । वास्तव में 2006 में जब मैं उपराष्ट्रपति था, मैंने कहा था कि 2020 तक भारत और अमेरिका दुनिया के सबसे करीबी देशों में होंगे । इस दौरान बाइडेन ने राष्टपिता महात्मा गांधी का भी जिक्र करते हुए उनके पैंगाम को याद रखे जाने की बात कही । 

यह दशक भारत अमेरिका के लिए अहम


इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने जवाब दिया कि आज का द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन महत्वपूर्ण है । हम इस सदी के तीसरे दशक की शुरुआत में मिल रहे हैं । आपका नेतृत्व निश्चित रूप से इस दशक को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा । यह दशक भारत और अमेरिका के लिए बेहद अहम होने वाला है । भारत और अमेरिका के बीच और भी मजबूत दोस्ती के बीज बोए गए हैं । पीएम मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की तारीफ करते हुए कहा कि भारत-US रिश्तों के लिए आपका विजन प्रेरक है । मुझे साल 2015, 2016 में विस्तार से आपके साथ बात करने का मौका मिला था । उस समय आपने भारत अमेरिका के संबंधों को लेकर अपना विजन बताया, वो वाकई प्रेरक था और आज आप राष्ट्रपति के तौर पर उस विजन को आगे बढ़ाने के लिए जो पुरुषार्थ कर रहे हैं, प्रयास कर रहे हैं उसका मैं स्वागत करता हूं । पीएम मोदी ने कहा, भारत और अमेरिका टेक्नोलॉजी के माध्यम से मनावता की काफी सेवा कर सकते हैं ।  भारत-अमेरिका के बीच ट्रेड का काफी महत्व है । 

बाइडेन ने किया था ट्वीट

विदित हो कि मोदी - बाइडेन की मुलाकात से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ने ट्वीट कर बताया है कि आज सुबह मैं एक द्विपक्षीय बैठक के लिए व्हाइट हाउस में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मेजबानी कर रहा हूं ।  मैं अपने दोनों देशों के बीच गहरे संबंधों को मजबूत करने, एक स्वतंत्र और खुले इंडो-पैसिफिक को बनाए रखने और कोविड-19 से लेकर जलवायु परिवर्तन तक हर चीज पर बात करने के लिए  तत्पर हूं । 

क्या बोले अमेरिकी राष्ट्रपति

जो बाइडेन ने उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस की मां का जिक्र करते हुए कहा कि वह भारत से थीं ।  उप-राष्ट्रपति की मां जानी-मानी वैज्ञानिक भी थीं ।  बाइडेन ने आगे कहा कि आज के समय में शांति, शहनशीलता के मूल्यों की जरूरत है ।  हमारी साझेदारी पहले से और ज्यादा बढ़ रही है ।  मोदी के दौरे का दूसरा दिन 

बता दें कि अपने तीन दिवसीय दौरे पर अमेरिका पहुंचे पीएम मोदी का शुक्रवार को दूसरा दिन है । शुक्रवार देर शाम उन्होंने  व्हाइट हाउस में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के साथ मुलाकात की । दोनों की बैठक में दोनों देशों के रिश्तों, कोरोना समेत विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई । अमेरिका के राष्ट्रपति बनने के बाद मोदी की यह उनसे पहली मुलाकात है । 

क्वाड की बैठक थोड़ी देर में 

बहरहाल , इस बैठक के बाद वॉशिंगटन में पीएम मोदी अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के नेताओं से क्वाड की बैठक में मुलाकात करेंगे । इससे पहले  पीएम मोदी ने दौरे के पहले दिन पांच कंपनियों के सीईओज, ऑस्ट्रेलिया और जापान के प्रधानमंत्री के साथ-साथ अमेरिकी उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस से भी मुलाकात की थी। 

Todays Beets: