Monday, March 1, 2021

Breaking News

   सरकार की सत्याग्रही किसानों को इधर-उधर की बातों में उलझाने की कोशिश बेकार है-राहुल गांधी     ||   थाइलैंड में साइना नेहवाल कोरोना पॉजिटिव, बैडमिंटन चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने गई हैं विदेश     ||   एयर एशिया के विमान से पुणे से दिल्ली पहुंची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप     ||   फिटनेस समस्या की वजह से भारत-ऑस्ट्रेलिया चौथे टेस्ट से गेंदबाज जसप्रीत बुमराह बाहर     ||   दिल्ली: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की पार्टी विधायकों के साथ बैठक, किसान आंदोलन पर चर्चा     ||   हम अपने पसंद के समय, स्थान और लक्ष्य पर प्रतिक्रिया देने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं- आर्मी चीफ     ||   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||

पीएम मोदी बोले - चौरी चौरा में 100 साल पहले जो हुआ, वह थाने में आग लगाने की घटना नहीं एक संदेश भी था

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पीएम मोदी बोले - चौरी चौरा में 100 साल पहले जो हुआ, वह थाने में आग लगाने की घटना नहीं एक संदेश भी था

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को यूपी के गोरखपुर में ''चौरी चौरा कांड'' के शताब्दी समारोह का उद्घाटन किया । वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस समारोह में शिरकत करते हुए कहा- 100 वर्ष पहले चौरी चौरा में जो हुआ वो सिर्फ एक आगजनी की घटना, एक थाने में आग लगा देने की घटना नहीं थी, चौरी चौरा का संदेश बहुत बड़ा था, बहुत व्यापक था। उन्होंने कहा कि अनेक वजहों से पहले जब भी चौरी चौरा की बात हुई, उसे एक मामूली आगजनी के संदर्भ में ही देखा गया। लेकिन आगजनी किन परिस्थितियों में हुई , क्या वजह थी, ये भी उतनी ही महत्वपूर्ण है।

इस समारोह से पहले पीएम मोदी ने चौरी चौरा की शताब्दी पर एक डाक टिकट भी जारी किया । आज से शुरू हो रहे ये कार्यक्रम पूरे साल आयोजित किये जायेंगे। 

इस दौरान पीएम मोदी बोले- इस साल जब देश अपनी आजादी के 75वें वर्ष में प्रवेश कर रहा है, उस समय ऐसे सामारोहों का होना इसे और भी प्रासंगित बना देता है।


उन्होंने कहा - मुझे खुशी है कि इस पूरे अभियान से हमारे छात्र-छात्राओं, युवाओं को प्रतियोगिता के माध्यम से भी जोड़ा जा रहा है। हमारे युवा जो अध्ययन करेंगे, उससे उन्हें इतिहास के कई अनकहे पहलू पता चलेंगे।

वह बोले - भारत ने जिस तरह से इस महामारी से लड़ाई लड़ी है, उसकी तारीफ आज पूरी दुनिया में हो रही है। हमारे टीकाकरण अभियान से भी दुनिया के कई देश सीख रहे हैं। हमारे देश की प्रगति का सबसे बड़ा आधार हमारा किसान भी रहा है। किसान आगे बढ़ेंगे, आत्मनिर्भर बनें, इसके लिए पिछले 6 वर्षों में लगातार प्रयास किये गए हैं।

Todays Beets: