Saturday, January 29, 2022

Breaking News

   बिहार: खान सर के समर्थन में उतरे पप्पू यादव, बोले- शिक्षकों पर केस दुर्भाग्यपूर्ण     ||   पंजाब: राहुल गांधी ने स्वर्ण मंदिर में माथा टेका, CM चन्नी और नवजोत सिंह सिद्धू भी साथ     ||   UP: मथुरा में बोले गृह मंत्री अमित शाह- माफिया पर कार्रवाई से अखिलेश को दर्द हुआ     ||   सीएम योगी का सपा पर तंज- जो लोग फ्री बिजली देने की बात कर रहे, उन्होंने UP को अंधेरे में रखा     ||   अरुणाचल प्रदेश से कई दिनों से लापता छात्र चीनी सेना को मिला, भारतीय सेना को दी गई जानकारी     ||   हैदराबाद: उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू कोरोना पॉजिटिव, एक हफ्ते तक आइसोलेशन में रहेंगे     ||   नेताजी की प्रतिमा का पीएम मोदी ने किया अनावरण, कहा- हमारे सामने नए भारत के निर्माण का लक्ष्य     ||   'यूपी में सबसे ज्यादा महिलाएं असुरक्षित हैं', अखिलेश यादव का बीजेपी पर अटैक     ||   दुख की बात है कि हमारे वीर जवानों के लिए जो अमर ज्योति जलती थी, उसे आज बुझा दिया जाएगा- राहुल गांधी     ||   चन्नी चमकौर साहिब से चुनाव हार रहे हैं, ED को गड्डी गिनता देख लोग सदमे में हैं- अरविंद केजरीवाल     ||

प्रधानमंत्री का ऐलान LIVE - अब से 16 जनवरी होगा National Start- Up Day , बीते वर्ष देश में बने 42 यूनिकॉर्न 

अंग्वाल न्यूज डेस्क

प्रधानमंत्री का ऐलान LIVE - अब से 16 जनवरी होगा National Start- Up Day , बीते वर्ष देश में बने 42 यूनिकॉर्न 

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश में स्टार्ट अप इंडिया कैंपेन के 6 साल पूरे होने परे देश के भावी बड़े उद्योगपतियों और कारोबारियों को संबोधित किया । इस दौरान उन्होंने कहा - देश के उन सभी स्टार्ट-अप्स को, सभी इनोवेटिव युवाओं को बहुत-बहुत बधाई देता हूं, जो स्टार्ट-अप्स की दुनिया में भारत का झंडा बुलंद कर रहे हैं। स्टार्ट-अप्स का ये कल्चर देश के दूर-दराज तक पहुंचे, इसके लिए 16 जनवरी को अब नेशनल स्टार्ट अप डे के रूप में मनाने का फैसला किया गया है । 

इस दौरान उन्होंने कहा - बीते साल तो 42 यूनिकॉर्न देश में बने हैं। हज़ारों करोड़ रुपए की ये कंपनियां आत्मनिर्भर होते, आत्मविश्वासी भारत की पहचान हैं। आज भारत तेज़ी से यूनिकॉर्न की सेंचुरी लगाने की तरफ बढ़ रहा है। और मैं मानता हूं, भारत के स्टार्ट-अप्स का स्वर्णिम काल तो अब शुरु हो रहा है । 

वह बोले Innovation को लेकर भारत में जो अभियान चल रहा है, उसी का प्रभाव है कि Global Innovation Index में भी भारत की रैंकिंग में बहुत सुधार आया है। वर्ष 2015 में इस रैंकिंग में भारत 81 नंबर पर था। अब इनोवेशन इंडेक्स में भारत 46 नंबर पर है । 

उन्होंने कहा - वर्ष 2013-14 में जहां 4 हजार patents को स्वीकृति मिली थी, वहीं पिछले वर्ष 28 हजार से ज्यादा patents, ग्रांट किए गए हैं। वर्ष 2013-14 में जहां करीब 70 हजार trademarks रजिस्टर हुए थे, वहीं 2020-21 में ढाई लाख से ज्यादा trademarks रजिस्टर किए गए हैं । इतना ही नहीं वर्ष 2013-14 में जहां सिर्फ 4 हजार copyrights, ग्रांट किए गए थे, पिछले साल इनकी संख्या बढ़कर 16 हजार के भी पार हो गई है ।  

वह बोले - चाहे नए drone rules हों, या फिर नई space policy, सरकार की प्राथमिकता, ज्यादा से ज्यादा युवाओं को innovation का मौका देने की है। हमारी सरकार ने IPR registration से जुड़े जो नियम होते थे, उन्हें भी काफी सरल कर दिया है । 

हमारा प्रयास, देश में बचपन से ही Students में innovation के प्रति आकर्षण पैदा करने, innovation को institutionalise करने का है। 9 हजार से ज्यादा अटल टिंकरिंग लैब्स, आज बच्चों को स्कूलों में innovate करने, नए Ideas पर काम करने का मौका दे रही हैं । 

इस दशक को भारत का techade कहा जा रहा है। इस दशक में Innovation, entrepreneurship और start-up इकोसिस्टम को मजबूत करने के लिए सरकार जो बड़े पैमाने पर बदलाव कर रही है, उसके तीन अहम पहलू हैं । पहला, Entrepreneurship को, इनोवेशन को सरकारी प्रक्रियाओं के जाल से, bureaucratic silos से मुक्त कराना। दूसरा, इनोवेशन को प्रमोट करने के लिए institutional mechanism का निर्माण करना। और तीसरा, युवा innovators, युवा उद्यम की handholding करना ।  

Todays Beets: