Sunday, January 24, 2021

Breaking News

   सरकार की सत्याग्रही किसानों को इधर-उधर की बातों में उलझाने की कोशिश बेकार है-राहुल गांधी     ||   थाइलैंड में साइना नेहवाल कोरोना पॉजिटिव, बैडमिंटन चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने गई हैं विदेश     ||   एयर एशिया के विमान से पुणे से दिल्ली पहुंची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप     ||   फिटनेस समस्या की वजह से भारत-ऑस्ट्रेलिया चौथे टेस्ट से गेंदबाज जसप्रीत बुमराह बाहर     ||   दिल्ली: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की पार्टी विधायकों के साथ बैठक, किसान आंदोलन पर चर्चा     ||   हम अपने पसंद के समय, स्थान और लक्ष्य पर प्रतिक्रिया देने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं- आर्मी चीफ     ||   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||

भारत में कोरोना वैक्सीन का इंतजार खत्म! , कोवीशिल्ड के इमरजेंसी इस्तेमाल को मिल सकती है अगले हफ्ते मंजूरी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भारत में कोरोना वैक्सीन का इंतजार खत्म! , कोवीशिल्ड के इमरजेंसी इस्तेमाल को मिल सकती है अगले हफ्ते मंजूरी

नई दिल्ली । ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिलने के बाद से एक बार फिर से दुनिया में हड़कंप मच गया है । इस सबके बीच भारतीयों के लिए एक अच्छी खबर भी आई है । असल में कोरोना वैक्सीन का इंतजार कर रहे लोगों को अब ज्यादा समय तक नहीं रुकना पड़ेगा । खबर है कि भारत सरकार ऑक्सफोर्ड और एस्ट्राजेनका ( Oxford-AstraZeneca) की वैक्सीन कोवीशिल्ड (Covishield) के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी अगले सप्ताह मिल सकती है । मिली सूचना के अनुसार , सीरम इंस्टीट्यूट (Serum Institute) ने सरकार को वो सारा डाटा मुहैया करवा दिया है , जिसकी सरकार ने मांग की थी । अगर सब कुछ ठीक रहा तो कोवीशिल्ड भारत की पहली वैक्सीन होगी, क्योंकि अब तक किसी वैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी नहीं मिली है । 

विदित हो कि भारत में इस समय तीन कंपनियों कोरोना वैक्सीन पर एकसाथ काम चल रहा है और तीनों ही अपने अंतिम चरण पर पहुंच गई है । इनमें से सीरम इंस्टीट्यूट (SII) कोवीशिल्ड वैक्सीन (Covishield Vaccine) बना रहा है । खबरें मिली हैं कि एसआईआई की वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल से पहले सरकार ने जो जरूरी डाटा मांगा था , वह दे दिया गया है । अब ऐसे में अगले सप्ताह सरकार द्वारा इस वैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी दी जा सकती है । 


बता दें कि अगर सरकार ऑक्सफोर्ड और एस्ट्राजेनका ( Oxford-AstraZeneca) की वैक्सीन कोवीशिल्ड (Covishield) को मंजूरी देती है तो भारत इस टीके के इस्तेमाल की अनुमति देने वाला पहला देश होगा । 

असल में पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ने ब्रिटिश-स्वीडिश फार्मा कंपनी AstraZeneca के साथ मिलकर ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित वैक्सीन के निर्माण के लिए समझौता किया है । ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका का दावा है कि उनकी कोरोना वैक्सीन के अंतिम चरण के ​​परीक्षणों में 90 फीसदी प्रभावी है । 

Todays Beets: