Tuesday, November 30, 2021

Breaking News

   टीम इंडिया भी रद्द कर सकती है साउथ अफ्रीका दौरा? इस वजह से बढ़ी टेंशन     ||   CJI सीजेआई ने सरकार को दी ये नसीहत, कहा- तभी निडर होकर काम कर पाएंगे जज     ||   DNA: अमेरिका की महागरीबी का विश्लेषण, 17 प्रतिशत आबादी है गरीबी रेखा से नीचे     ||   कृषि कानूनों को रद्द करने का रास्ता साफ, लोक सभा में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर पेश करेंगे बिल     ||   52वां इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया 20 से 28 नवंबर तक गोवा में होगा     ||   पीएम मोदी की अपील- मेड इन इंडिया सामान खरीदने पर जोर दें, इसके लिए सब प्रयास करें     ||   भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर बिल गेट्स ने दी पीएम मोदी को बधाई     ||   सेना की 39 महिला अफसरों की बड़ी जीत, मिलेगा स्थायी कमीशन; SC ने दिया आदेश     ||   बिहार में महागठबंधन टूटा, कांग्रेस का ऐलान 2024 के आम चुनाव में सभी 40 सीटों पर लड़ेगी पार्टी     ||   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||

सुप्रीमकोर्ट का केंद्र को निर्देश - प्रदूषण को लेकर कल आपात बैठक बुलाएं , हम चाहते हैं यह प्रदूषण कम हो 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सुप्रीमकोर्ट का केंद्र को निर्देश - प्रदूषण को लेकर कल आपात बैठक बुलाएं , हम चाहते हैं यह प्रदूषण कम हो 

नई दिल्ली । प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट में जारी सुनवाई अब बुधवार सुबह 10.30 बजे तक के लिए टाल दी गई है । इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को दिल्ली एनसीआर में प्रदूषण के खतरनाक होते स्तर को कम करने के संबंध में निर्देश दिए । कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा कि वह प्रदूषण को कम करने के लिए कल एक आपात बैठक बुलाए , इसमें कुछ ठोस फैसले लिए जाएं । कोर्ट ने कहा कि हम चाहते हैं कि यह प्रदूषण हर हाल में कम होना चाहिए । 

विदित हो कि दिल्ली एनसीआर में दीपावली के बाद प्रदूषण के बढ़ते स्तर को लेकर दायर की गई याचिका पर सोमवार को दोबारा से सुनवाई हुई । सोमवार को दिल्ली सरकार ने भी सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दायर करते हुए कहा कि सिर्फ दिल्ली में लॉकडाउन लगाए जाने से लाभ नहीं होगा । मौजूदा हालात में दिल्ली एनसीआर में संपूर्ण लॉकडाउन नहीं लगाया गया तो कोई फायदा नहीं होगा । 


इससे इतर , इस मामले में सुनवाई को सुप्रीम कोर्ट ने अब बुधवार सुबह तक के लिए टाल दिया है । इससे पहले कोर्ट ने केंद्र सरकार को निर्देश दिए कि वह इस मामले को लेकर मंगलवार को एक आपात बैठक बुलाए , जिसमें इस मुद्दे को लेकर कोई ठोस फैसला लिया जाए । कोर्ट ने कहा कि हम चाहते हैं कि यह प्रदूषण कम होना चाहिए । 

Todays Beets: