Wednesday, May 25, 2022

Breaking News

    रोडरेज मामले में सिद्धू को 1 साल कठोर कारावास की सजा, SC ने 34 साल पुराने केस में सुनाई सज़ा    ||   बिहार विधानसभा में कानून व्यवस्था को लेकर हंगामा, CPI-ML के 12 विधायकों को किया गया बाहर     ||   गौतमबुद्ध नगर के तीनों प्राधिकरणों के 49,500 करोड़ नहीं चुका रहीं रियल एस्टेट कंपनियां     ||   आंध्र प्रदेश: गुड़ी पड़वा के जश्न के दौरान भक्तों के बीच मंदिर में मारपीट, दुकानों में तोड़फोड़-आगजनी     ||   दिल्ली एयरपोर्ट पर रोके जाने के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट पहुंचीं राणा अयूब     ||   सोनिया गांधी ने बोला केंद्र पर हमला, लगाया MGNREGA का बजट कम करने का आरोप     ||   केजरीवाल के आवास पर हमला: दिल्ली HC पहुंची AAP, एसआईटी गठन की मांग की     ||   राज्यसभा जा सकते हैं शिवपाल यादव! दो दिन से जारी है बीजेपी मुलाकातों का दौर     ||   यूपी हज समिति के अध्यक्ष बने मोहसिन रजा, राज्यमंत्री का भी दर्जा मिला     ||   दिल्ली: नई शराब नीति के विरोध में BJP, पटेल नगर समेत 14 जगहों पर शराब की दुकानें की सील     ||

लाउडस्पीकर विवाद के बीच योगी सरकार एक्शन में , 125 अवैध लाउडस्पीकर हटाए , 17 हजार जगह धीमी हुई आवाज 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
लाउडस्पीकर विवाद के बीच योगी सरकार एक्शन में , 125 अवैध लाउडस्पीकर हटाए , 17 हजार जगह धीमी हुई आवाज 

लखनऊ । देश में जारी लाउडस्पीकर विवाद के बीच यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार एक्शन में आ गई है । योगी सरकार ने धार्मिक स्थलों से अवैध लाउडस्पीकर हटाने का आदेश दिया था , जिसके बाद अब परिणाम आने लगे हैं। सरकारी आदेश के बाद अब तक यूपी में करीब 125 लाउडस्पीकरों को उतरवा दिया गया है । तो इस संबंध में अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी ने बयान जारी किया है । अपर मुख्य सचिव (गृह) ने मीडिया को दिए अपने बयान में कहा - राज्य में धार्मिक स्थलों से अवैध लाउडस्पीकर हटाने का आदेश शनिवार को जारी किया गया था । इस संबंध में (जिलों से) 30 अप्रैल तक अनुपालन रिपोर्ट मांगी गई है। 

वह बोले - पुलिस को धार्मिक नेताओं के साथ संवाद स्थापित करने और उनके साथ समन्वय करके अवैध लाउडस्पीकर को हटाने का निर्देश दिया गया है । 

इसी क्रम में एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि अब तक 125 लाउडस्पीकरों को उतरवा लिया गया है और 17 हजार लोगों ने अपनी मर्जी से लाउडस्पीकर की आवाज को कम कर दिया है । 

विदित हो कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने 19 अप्रैल को ईद के त्योहार और अक्षय तृतीया के एक ही दिन पड़ने और आने वाले दिनों में कई अन्य महत्वपूर्ण धार्मिक त्योहारों को देखते हुए निर्देश दिये थे कि त्योहारों के दौरान माइक का प्रयोग किया जा सकता है, लेकिन यह सुनिश्चित हो कि माइक की आवाज उस परिसर से बाहर न जाए ।


उन्होंने इस बात पर जोर दिया था कि अन्य लोगों को कोई असुविधा नहीं होनी चाहिए और नये आयोजनों और नये स्थलों पर माइक लगाने की अनुमति नहीं दी जाए ।  सीएम योगी ने कहा था कि शोभायात्रा/धार्मिक जुलूस बिना इजाजत के न निकाला जाए और अनुमति देने से पहले आयोजक से शांति-सौहार्द कायम रखने के संबंध में एफिडेविट लिया जाए । 

सीएम ने उस दौरान सिर्फ उन्हीं धार्मिक जुलूसों को इजाजत दिए जाने की बात कही थी , जो पारम्परिक हों, नए आयोजनों को गैर जरूरी अनुमति नहीं दी जानी चाहिए । 

 

Todays Beets: