Thursday, October 22, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

बलिया गोलीकांड - मुख्य आरोपी के भाई समेत 5 गिरफ्तार , भाजपा विधायक बोले - आत्मरक्षा में धीरेंद्र ने की फायरिंग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बलिया गोलीकांड - मुख्य आरोपी के भाई समेत 5 गिरफ्तार , भाजपा विधायक बोले - आत्मरक्षा में धीरेंद्र ने की फायरिंग

लखनऊ । बलिया गोलीकांड के बाद पुलिस- प्रशासन के अफसरों पर हुई कार्यवाही के बाद अब आरोपियों पर शिकंजा कसा जाने लगा है । पुलिस ने दावा किया है कि इस घटना के मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह के भाई देवेंद्र प्रताप समेत 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है । जबकि धीरेंद्र समेत तीन आरोपी अभी भी फरार है । भले ही सरकार की कड़ाई के बाद अब आरोपियों को शिकंजा कसा जा रहा है, लेकिन भाजपा विधायक ने एक बार फिर से अपने करीबी और भाजपा कार्यकर्ता रहे धीरेंद्र प्रताप का बचाव किया है । उन्होंने कहा की धीरेंद्र ने अपनी आत्मरक्षा में गोलियां चलाईं। 

8 लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर

बता दें कि गत 15 अक्टूबर को बलिया जिले के रेवती थाना क्षेत्र के दुर्जनपुर गांव में कोटे की दुकान के आवंटन की प्रक्रिया जारी थी । इस दौरान पुलिस प्रशासन के कई बड़े अफसर मौजूद थे । इस दौरान चल रही कार्यवाही में दो पक्षों के लोग आपस में भिड़ं गए । इस सबके बीच गांव के ही दबंग धीरेंद्र प्रताप सिंह ने अपने साथियों के साथ मिलकर दूसरे पक्ष पर हमला बोल दिया और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। 

बलिया गोलीकांड में यूपी पुलिस की फिर किरकिरी , मुख्य आरोपी पुलिस के कब्जे से फरार , CO-SDM सस्पेंड

5 गिरफ्तार मुख्य आरोपी फरार


पुलिस प्रशासन की उपस्थिति में हुए इस गोलीकांड में प्रशासन ने इलाके के सीओ और एसडीएम को सस्पेंड कर दिया गया है । वहीं पुलिस ने अब नामजद आरोपियों पर शिकंजा कसते हुए मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप के भाई देवेंद्र प्रताप समेत कुल 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है । 

हाथरस के बाद अब गोंडा में 'एसिड अटैक' पीड़ित बच्चियों के पिता बोले - पुलिस की जांच पर विश्वास नहीं

आखिर क्या है मामला 

बता दें कि गत 15 अक्टूबर को बलिया जिले के रेवती थाना क्षेत्र के दुर्जनपुर गांव में कोटे की दुकान के आवंटन की प्रक्रिया जारी थी । इस दौरान पुलिस प्रशासन के कई बड़े अफसर मौजूद थे । इस दौरान चल रही कार्यवाही में दो पक्षों के लोग आपस में भिड़ं गए । इस सबके बीच गांव के ही दबंग धीरेंद्र प्रताप सिंह उर्फ डब्ल्यू ने अपने साथियों के साथ मिलकर दूसरे पक्ष पर हमला बोल दिया और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। इस गोलीबारी में जयप्रकाश पाल को गोली लगी , जिसकी बाद में मौत हो गई । पुलिस ने इस मामले में धीरेंद्र प्रताप समेत 8 लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज करते हुए मौके पर मौजूद अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है ।  

Todays Beets: