Friday, April 23, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

बार - होटल से उगाही मामले में बांबे हाईकोर्ट का बड़ा फैसला , गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ CBI जांच के आदेश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बार - होटल से उगाही मामले में बांबे हाईकोर्ट का बड़ा फैसला , गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ CBI जांच के आदेश

मुंबई । महाराष्ट्र पुलिस के उगाही वाले ''खेल'' को लेकर अब बड़ी खबर आई है । मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह (Param Bir Singh) की याचिका पर सोमवार को बांबे हाईकोर्ट (Bombay High Court) में सुनवाई हुई ।  इस दौरान हाईकोर्ट ने इस पूरे घटनाक्रम को असाधारण करार देते हुए कहा कि परमबीर सिंह के आरोप बहुत गंभीर हैं । इस दौरान उन्होंने महाराष्ट्र के गृहमंत्री पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद अब उनके खिलाफ सीबीआई जांच करने के आदेश दिए हैं । कोर्ट ने साफ कहा कि सीबीआई गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच 15 दिनों के भीतर शुरू हो और इसकी रिपोर्ट कोर्ट को सौंपी जाए ।  

मुंबई के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह द्वारा सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने के बाद शीर्ष अदालत ने उन्हें पहले हाईकोर्ट में जाकर याचिका दाखिल करने को कहा था । इसके बाद परमबीर सिंह ने बांबे हाईकोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए कई गंभीर आरोप लगाए थे । इस मामले में सोमवार को हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए कहा कि मुंबई के पूर्व कमिश्नर द्वारा लगाए गए आरोप बहुत गंभीर है । इसकी सीबीआई जांच होनी चाहिए । ऐसे केस में अगर लोकल पुलिस जांच करेगी तो जनता का विश्वास उठ जाएगा । इसके साथ ही कोर्ट ने सीबीआई (CBI) को 15 दिनों के अंदर प्रारंभिक जांच करने और रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया । 


आपको बता दें कि परमबीर सिंह ने खुद को पद से हटाए जाने के बाद राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख चाहते थे कि पुलिस अधिकारी बार और होटलों से हर महीने 100 करोड़ रुपये की वसूली करके उन्हें पहुंचाएं । इन आरोपों के साथ ही उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी , जहां कोर्ट ने याचिका को सुनवाई के लिए खारिज करते हुए पहले बांबे हाईकोर्ट में जाकर याचिका दाखिल करने को कहा था । इसी मामले में आज कोर्ट ने सुनवाई की है । 

Todays Beets: