Sunday, February 5, 2023

Breaking News

   Supreme Court: कलेजियम की सिफारिशों को रोके रखना लोकतंत्र के लिए घातक: जस्टिस नरीमन     ||   Ghaziabad: NGT के फैसले पर नगर निगम को SC की फटकार, 1 करोड़ जमा कराने की शर्त पर वूसली कार्रवाई से राहत     ||   दिल्लीः फ्लाइट में स्पाइसजेट की क्रू के साथ अभद्रता के मामले में एक्शन, आरोपी गिरफ्तार     ||   मोरबी ब्रिज हादसा: ओरेवा ग्रुप के मालिक जयसुख पटेल के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी     ||   भारत जोड़ो यात्राः राहुल गांधी बोले- हम चाहते हैं कि बहाल हो जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा     ||   MP में नहीं माने बजरंग दल और हिंदू जागरण मंच, 'पठान' की रिलीज के विरोध का किया ऐलान     ||   समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्या पर लखनऊ में FIR     ||   बजरंग पुनिया बोले - Oversight Committee बनाने से पहले हम से कोई परामर्श नहीं किया गया     ||   यमुना एक्सप्रेस-वे पर कोहरे की वजह से 15 दिसंबर से स्पीड लिमिट कम कर दी जाएगी     ||   भारत की यात्रा करने वाले ब्रिटेन के नागरिकों के लिए ई-वीजा सुविधा फिर से शुरू     ||

राहुल की ''भारत जोड़ो'' यात्रा से कन्नी काट रहे राजनेता , साथ नहीं सिर्फ शुभकामनाएं दे रहें दिग्गज

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राहुल की

न्यूज डेस्क । कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों कुछ अलग ही जोश में हैं । उनकी भारत जोड़ों यात्रा कुछ दिन के आराम के बाद एक बार फिर से शुरू हो गई है । इस बार यात्रा यूपी पहुंची है । राहुल गांधी का जोश और जज्बा पहले जैसा ही नजर आ रहा है , लेकिन उत्तर भारत तक आते आते जो समीकरण बदले हैं , उसमें सियासी राजनेता राहुल को उनकी इस यात्रा के लिए शुभकामनाएं तो देते नजर आ रहे हैं , लेकिन खुद उनसे कन्नी काटते नजर आ रहे हैं । कुछ ऐसा ही हुआ बुधवार को जब , जाटलैंड बागपत पहुंची राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी नजर नहीं आए । हालांकि उनके कुछ कार्यकर्ता जरूर इसमें शामिल दिखे । इसी क्रम में समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की मुखिया मायावती ने राहुल को शुभकामनाएं तो दी हैं , लेकिन ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से खुद को अलग रखा है । वहीं बिहार में नीतीश कुमार भी अब राहुल की यात्रा के समर्थन में नहीं उतरने की बात कह रहे हैं । 

सुबह जाटलैंड बागपत में रैली 

कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा‘ (Bharat Jodo Yatra) मंगलवार को यूपी में शुरू हुई है । गाजियाबाद के बाद बुधवार को यह उत्तर प्रदेश के ‘जाटलैंड’ कहे जाने वाले बागपत पहुंची । बागपत स्थित मवीकलां में रात्रि विश्राम के बाद आज बुधवार सुबह 6 बजे पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के नेतृत्व में फिर शुरू हुई । यात्रा में राष्ट्रीय लोकदल (RLD) के अध्यक्ष जयंत चौधरी (Jayant Chaudhary) इसमें शामिल नहीं हुए हैं , हालांकि आरएलडी के जिलाध्यक्ष की अगुवाई में पार्टी के कार्यकर्ताओं शिरकत करते नजर आए ।

नीतीश कुमार ने भी दिया झटका


बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू राहुल गांधी की अगुवाई वाली भारत जोड़ो यात्रा में शामिल नहीं होगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस यात्रा को पूरी तरह से कांग्रेस का आंतरिक मामला बताया है। पटना में पत्रकारों से बात करते हुए सीएम नीतीश ने कहा कि उनकी पार्टी जेडीयू कांग्रेस की पदयात्रा में शामिल नहीं होगी। दरअसल, जेडीयू के कुछ नेताओं द्वारा यह कहे जाने कि उत्तर प्रदेश में वे कांग्रेस भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होंगे, नीतीश ने कहा कि यह उनकी पार्टी का कार्यक्रम है। हर पार्टी को यात्रा करने का अधिकार है।प्रियंका वाड्रा भी पहुंची

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश इकाई के प्रवक्ता अंशु अवस्थी ने बताया कि राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) सुबह दिल्ली से मवीकलां पहुंचे और पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक यात्रा छह बजे से एक बार फिर शुरू की गई । लेकिन प्रियंका सुबह यात्रा में शामिल नहीं हुईं वह दोपहर बाद यात्रा में शामिल हुईं। 

राहुल पुराने अंदाज में नजर आए

एक बार फिर से पश्चिम उत्तर प्रदेश में कड़ाके की सर्दी के बीच राहुल गांधी सिर्फ एक सफेद हाफ  टी-शर्ट पहनकर पदयात्रा करते दिखे । इस मौके पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बृजलाल खाबरी समेत कई वरिष्ठ नेता भी राहुल के साथ कदमताल करते नजर आए । 

जम्‍मू कश्‍मीर में होगा यात्रा का समापन

बता दें कि यात्रा उत्तर प्रदेश में लगभग 3 दिन रहेगी और उसके बाद बृहस्पतिवार शाम को हरियाणा के पानीपत में प्रवेश करेगी । इसके बाद पंजाब से होते हुए यह एक दिन हिमाचल प्रदेश से गुजरेगी और उसके बाद जम्मू-कश्मीर में प्रवेश करेगी, जहां इसका समापन होगा । 

Todays Beets: