Sunday, February 5, 2023

Breaking News

   Supreme Court: कलेजियम की सिफारिशों को रोके रखना लोकतंत्र के लिए घातक: जस्टिस नरीमन     ||   Ghaziabad: NGT के फैसले पर नगर निगम को SC की फटकार, 1 करोड़ जमा कराने की शर्त पर वूसली कार्रवाई से राहत     ||   दिल्लीः फ्लाइट में स्पाइसजेट की क्रू के साथ अभद्रता के मामले में एक्शन, आरोपी गिरफ्तार     ||   मोरबी ब्रिज हादसा: ओरेवा ग्रुप के मालिक जयसुख पटेल के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी     ||   भारत जोड़ो यात्राः राहुल गांधी बोले- हम चाहते हैं कि बहाल हो जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा     ||   MP में नहीं माने बजरंग दल और हिंदू जागरण मंच, 'पठान' की रिलीज के विरोध का किया ऐलान     ||   समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्या पर लखनऊ में FIR     ||   बजरंग पुनिया बोले - Oversight Committee बनाने से पहले हम से कोई परामर्श नहीं किया गया     ||   यमुना एक्सप्रेस-वे पर कोहरे की वजह से 15 दिसंबर से स्पीड लिमिट कम कर दी जाएगी     ||   भारत की यात्रा करने वाले ब्रिटेन के नागरिकों के लिए ई-वीजा सुविधा फिर से शुरू     ||

कोरोना को लेकर सरकार अलर्ट , सभी राज्यों को खास निर्देश जारी , विदेशी यात्रियों को लेकर नई गाइडलाइन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कोरोना को लेकर सरकार अलर्ट , सभी राज्यों को खास निर्देश जारी , विदेशी यात्रियों को लेकर नई गाइडलाइन

नई दिल्ली । चीन समेत दुनिया के कई देशों में कोरोना की नई लहर के चलते अब भारत सरकार भी अपने यहां किसी आशंका से निपटने की तैयारियों में जुट गई है । सरकार न केवल अलर्ट मोड पर आ गई है बल्कि राज्य सरकारों को खास निर्देश जारी किए हैं । इसके साथ ही कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए विदेशी यात्रियों के लिए भी नई गाइडलाइन जारी हुई है ।  केंद्र सरकार ने अपने निर्देश में कहा कि किसी भी संभावित चुनौती से निपटने के लिए तैयार रहें ।  

RT-PCR हुआ इनके लिए अनिवार्य

इसी क्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि चीन, सिंगापुर, जापान और थाईलैंड के पैसेंजर्स पर 'एयर सुविधा' पोर्टल के माध्यम से नजर रखी जा रही है । इसके साथ ही चीन, दक्षिण कोरिया, जापान, बैंकॉक और सिंगापुर से आने वाले पैसेंजर्स को अपनी आरटी-पीसीआर (RT-PCR) रिपोर्ट पहले से अपलोड करनी होगी. देश में आने के बाद उनकी थर्मल स्क्रीनिंग भी की जाएगी । 

ऑक्सीजन को लेकर कही यह बात

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW) ने कोविड-19 महामारी प्रबंधन के लिए मेडिकल ऑक्सीजन की नियमित आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखा है । इसमें राज्य सरकारों को स्पष्ट तौर पर निर्देश दिया गया है कि अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन, ऑक्सीजन सिलेंडर और वेंटिलेटर जैसे जीवनरक्षक उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित कराइ जाएं ।  इसके साथ ही प्रेशर स्विंग एडजॉर्पशन (पीएसए) ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र पूरी तरह से चालू रखे जाएं और उनकी जांच के लिए नियमित मॉक ड्रिल की जाए । 

समय रहते सतर्कता जरूरी


केंद्र सरकार की ओर से राज्य सरकारों को लिखे गए पत्रकार में स्वास्थ्य मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव मनोहर अगनानी ने कहा कि किसी भी स्थिति से निपटने के लिए इन चिकित्सा सुविधाओं का संचालनात्मक स्थिति में रहना और उनकी देखरेख किया जाना सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है । हालांकि, देश में संक्रमण के मामलों की संख्या अभी कम है, लेकिन समय रहते सतर्कता बेहद जरूरी है ।  उन्होंने कहा कि महामारी से निपटने के लिए मेडिकल ऑक्सीजन महत्वपूर्ण और अहम संसाधन है और मरीजों की देखभाल तथा कोविड-19 प्रबंधन के दौरान लोगों की जान बचाने के लिए निर्बाध ऑक्सीजन आपूर्ति बेहद अहम है । इसके साथ ही उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि फिलहाल देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या कम है ।  

कोरोना को लेकर नए अपडेट

- भारत से पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 201 नए मामले सामने आए हैं  । पिछले 24 घंटों कोविड के 183 मरीज ठीक हुए हैं. इस दौरान एक लाख से ज्‍यादा लोगों को वैक्‍सीन की डोज लगाई गई ।        

 - चीन, सिंगापुर, जापान और थाईलैंड के पैसेंजर्स पर 'एयर सुविधा' पोर्टल के माध्यम से नजर रखी जा रही है ।  चीन, दक्षिण कोरिया, जापान, बैंकॉक और सिंगापुर से आने वाले पैसेंजर्स को अपनी आरटी-पीसीआर (RT-PCR) रिपोर्ट पहले से अपलोड करनी होगी । 

-  देश में आने के बाद उनकी थर्मल स्क्रीनिंग भी की जाएगी । स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा कि विदेशी यात्रियों में कोरोना के लक्षण दिखने या पॉजिटिव पाए जाने पर उन्हें क्वारंटाइन किया जाएगा । - अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन, ऑक्सीजन सिलेंडर और वेंटीलेटर जैसे जीवनरक्षक उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित कराइ जाएं ।  प्रेशर स्विंग एडजॉर्पशन (पीएसए) ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र पूरी तरह से चालू रखे जाएं और उनकी जांच के लिए नियमित मॉक ड्रिल की जाए । 

Todays Beets: