Wednesday, September 30, 2020

Breaking News

   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||   अभिनेत्री कंगना रनौत-बीएमसी मामले में सुनवाई स्थगित     ||   सुशांत केस - जांच में देरी पर CBI बोली - हम हर एंगल की बारीकी और प्रोफेशनल तरीके से कर रहे हैं जांच    ||   कप्तान धोनी ने IPL2020 की शुरुआत जीत से की,जानिये कैसे ?     ||   लखनऊ: यूपी में आकाशीय बिजली से हुई मौत के मामले में परिजनों को 4 लाख मुआवजा     ||   कोरोना काल में भाजपा सरकार ने अनेक ख्याली पुलाव पकाए, लेकिन एक सच भी था? -राहुल गांधी     ||

दिल्ली दंगों में नई चार्जशीट दाखिल , सीताराम येचुरी - योगेंद्र यादव समेत कई बड़े नेताओं के नाम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
दिल्ली दंगों में नई चार्जशीट दाखिल , सीताराम येचुरी - योगेंद्र यादव समेत कई बड़े नेताओं के नाम

नई दिल्ली । दिल्ली दंगों की आड़े के पीछे की साजिश को लेकर दिल्ली पुलिस ने नई चार्जशीट दायर की है , जिसमें साजिशकर्ताओं को मदद करने वालों में कई दिग्गज नेताओं के नाम भी सामने आए हैं । खास बात यह है कि दिल्ली पुलिस की इस चार्जशीट में माकपा नेता सीताराम येचुरी समेत योगेंद्र यादव , अमानुतुल्ला खान , फिल्मकार राहुल रॉय समेत कई लोगों के नाम शामिल हैं । वहीं दिल्ली पुलिस की इस कार्यवाही को येचुरी ने खारिज करते हुए केंद्र की मोदी सरकार पर ही आरोप लगाए हैं । उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस MHA के अधीन है । केंद्र की सरकार विपक्ष के आरोपों से डर गई है । यह दिल्ली पुलिस की अवैध हरकत है । 

बता दें कि दिल्ली में फरवरी में हुए दंगों के मामलों में अब दिल्ली पुलिस ने सप्लीमेंट चार्जशीट दाखिल की है , जिसमें कई नेताओं के भी नाम है । इनमें  माकपा नेता सीताराम येचुरी , स्वराज अभियान के योगेंद्र यादव , आप विधायक अमानुतुल्ला खान , अर्थशास्त्री जयती घोष (Jayati Ghosh) , दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्राध्यापक अपूर्वानंद और फिल्मकार राहुल रॉय समेत भीम सेना के चंद्रशेखर , उप खालिद , पूर्व विधायक मतीन अहमद शामिल हैं । 

इन सब पर आरोप है कि इन सभी ने नागरिकता कानून का विरोध कर रहे लोगों को भड़काने और उन्हें मदद की । इन लोगों ने हिंसक प्रदर्शनकारियों को किसी भी हद तक जाकर प्रदर्शन करने और सीएए - एनआरसी को लेकर मुस्लिम समाज को भड़काने का आरोप लगाए गए हैं । इतना ही नहीं इस मामले में केंद्र की मोदी सरकार की छवि को भी खराब करने की साजिश भी इन लोगों ने रचि थी । 


इतना ही नहीं दिल्ली पुलिस ने इस मामले में जेएनयू की छात्रा देवांगना कालिता , नताशा न रवाल और जामिला मिल्लिया इस्लामिया की छात्रा गुलफिशा फातिमा को जाफराबाद हिंसा में आरोपी बनाया है । 

इस मामले में माकपा नेता सीताराम येचुरी ने ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया दी है । उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि दिल्ली सरकार गृहमंत्रालय के अधीन है । यह सब दिल्ली पुलिस की अवैध हरकत है । हमने तो शांतिपूर्वक प्रदर्शन किया था । केंद्र सरकार विपक्ष के आरोपों से घबरा गई है । 

 

Todays Beets: