Tuesday, November 30, 2021

Breaking News

   टीम इंडिया भी रद्द कर सकती है साउथ अफ्रीका दौरा? इस वजह से बढ़ी टेंशन     ||   CJI सीजेआई ने सरकार को दी ये नसीहत, कहा- तभी निडर होकर काम कर पाएंगे जज     ||   DNA: अमेरिका की महागरीबी का विश्लेषण, 17 प्रतिशत आबादी है गरीबी रेखा से नीचे     ||   कृषि कानूनों को रद्द करने का रास्ता साफ, लोक सभा में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर पेश करेंगे बिल     ||   52वां इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया 20 से 28 नवंबर तक गोवा में होगा     ||   पीएम मोदी की अपील- मेड इन इंडिया सामान खरीदने पर जोर दें, इसके लिए सब प्रयास करें     ||   भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर बिल गेट्स ने दी पीएम मोदी को बधाई     ||   सेना की 39 महिला अफसरों की बड़ी जीत, मिलेगा स्थायी कमीशन; SC ने दिया आदेश     ||   बिहार में महागठबंधन टूटा, कांग्रेस का ऐलान 2024 के आम चुनाव में सभी 40 सीटों पर लड़ेगी पार्टी     ||   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||

सर्वोच्च बलिदान - अदम्य साहस दिखाने वाले ''सुपर हीरो'' सैन्य पुरस्कारों से सम्मानित , जानें इन वीरों की गाथा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सर्वोच्च बलिदान - अदम्य साहस दिखाने वाले

नई दिल्ली । राष्ट्रपति भवन में सोमवार को एक विशेष समारोह में वर्ष  2020 के सैन्य पदक दिए गए । इस दौरान तीनों सैनाओं के प्रमुख और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश से सच्चे वीर सपूतों को सैन्य पदकों से सम्मानित किया गया । इस समारोह में पाकिस्तान के एफ-16 विमान को मार गिराने वाले और पाकिस्तानी की सेना द्वारा पकड़े जाने के दौरान सच्ची वीरता का प्रदर्शन करने वाले तत्कालीन विंग कमांडर अभिनंदन कुमार को आज वीर चक्र से सम्मानित किया गया । इसके साथ ही मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल और नायक सूबेदार सोमबीर को मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया । असल में इस बार कोरोना महामारी के चलते इस समारोह के आयोजन में देरी हुई । राष्ट्रपति भवन में आयोजित अलंकरण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई बड़ी हस्तियां शामिल हैं।

अभिनंदन वर्धमान को वीर चक्र

पाकिस्तान (Pakistan) के खिलाफ की गई सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike) के अगले दिन 27 फरवरी को पाकिस्तान की वायुसेना ने भारत में घुसने की कोशिश की, लेकिन भारतीय वायुसेना ने उसे खदेड़ दिया । तत्कालीन विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान उस समय Mig-21 उड़ा रहे थे । ग्रुप कैप्टन अभिनंदन ने उसी विमान से पाकिस्तान के F-16 को मार गिराया था । हालांकि बाद में अभिनंदन का विमान पाकिस्तान की सीमा में क्रैश हो गया, जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने उन्हें बंदी बना लिया । भारत के दबाव में पाकिस्तान ने करीब 60 घंटे बाद अभिनंदन को छोड़ा था। इस दौरान उनके साहत के पाकिस्तान से कुछ वीडियो वायरल हुए थे , जिसमें उन्होंने अपने अदम्य साहस का परिचय दिया था ।

 

मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की मां सम्मान ने लिया पदक 

घाटी में पांच आतंकवादियों को मौत के घाट उतारने वाले मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल को भी मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया। मेजर ढौंडियाल को आखिरी सांस तक आतंकियों का मुकाबला किया । सेना के अदम्य साहत और सर्वोच्चन बलिदान के लिए मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया । इस पदक को लेकर उनकी मां सरोजनी ढौंडियाल और पत्नी लेफिट्नेंट नीतिका कौल पहुंची थी । 

कर्नल रहे अजय सिंह कुश्वाह को शौर्य

जिला अनंतनाग में 22 नवंबर 2018 की रात आतंकियों की सूचना मिलने पर तत्कालीन लेफ्टिनेंट कर्नल अजय सिंह कुश्वाह ने तुरंत कार्रवाई कर एक टुकड़ी बनाई , लेकिन आतंकियों ने इनके नेतृत्व में इनकी टीम पर हमला कर दिया । चार आतंकियों ने इनकी टीम पर हमला कर दिया । दुश्मन की गोलीबारी का सामना करते हुए सीमित कवर में आपने दो आतंकियों को मार गिराया , जबकि दो को गंभीर रूप से घायल कर दिया । इन्होंने अदम्य साहस का परिचय दिया । सामरिक कौशल और बेबाक नेतृत्व के चलते उन्हें शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया । अब वह मेजर बन गए हैं । 

उप कमांडेंट हर्षपाल सिंह को कीर्ति चक्र

हर्षपाल सिंह , उप कमांडेंट केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल को 12 सितंबर 2018 की सुबह एक मकान में तीन विदेशी आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली । इसके बाद हर्षपाल ने एक छोटी सी टुकड़ी के साथ आतंकियों से लोहा लेने की ठानी , लेकिन थोड़ी देर में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और सेना के साथ एक संयुक्त अभियान करते हुए सुबह 10 .55 मिनट इस मकान पर धावा बोला ,लेकिन आतंकियों ने इनकी टुकड़ी पर भारी गोलाबारी की । अपने साथी को संभालते हुए उन्होंने एक पेड़ के पीछे छिपते हुए बराबर का मौर्चा संभाला । उन्होंने पेड़ के पीछे छिपकर एक आतंकी को मार गिराया । जबकि दूसरे को घायल किया । आतंकियों ने इस दौरान उनपर ग्रेनेड से हमले किए , जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गए । अत्याधिक खून बहने से अस्पताल ले जाया गया । बाद में उनके साथियों ने अन्य तीन आतंकियों को ढेर किया । 


कैप्टन मनीष कुमार भूरे को शौर्या

इंजिनियर कोर , 34 बटालियन राष्ट्रीय रायफल के तत्कालीन कैप्टन मनीष कुमार भूरे ने 25 नवंबर 2018 को एक ऑपरेशन टीम के मिशन लीडर के तौर पर अदम्य साहत का परिचय दिया । कैप्टन को सूचना मिली की एक घर में कुछ आतंकी छिपे हैं । इनकी टीम ने घर को घेर लिया । लेकिन आतंकियों को घिरने का एहसास हुआ तो उन्होंने सैन्य टीम पर हमला कर दिया । इस दौरान आतंकियों ने अंधेरे का फायदा उठाते हुए भागने और घेराबंदी तोड़ने की कोशिश की । इस दौरान इन्होंने भाग रहे एक आतंकी के साथ गुथमगुत्थी करते हुए उसे मौत के घाट उतारा । हालांकि इस दौरान उन्होंने अपने एक अन्य घायल साथी को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाय । इसके बाद आतंकियों के ठिकाने के करीब पहुंचे और दूसरे आतंकी को अपने अदम्य साहस का परिचय देते हुए उसे भी ढेर कर दिया । उन्हें इस अदम्य साहस के लिए शौर्य पदक से सम्मानित किया । 

शहीद नायब सूबेदार सोमबीर को मरणोपरांत शौर्य चक्र 

वहीं जम्मू-कश्मीर में एक ऑपरेशन के दौरान ए ++ श्रेणी के आतंकवादियों को मारने के लिए शहीद नायब सूबेदार सोमबीर को मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया। उनकी पत्नी और मां ने राष्ट्रपति के हाथों सम्मान ग्रहण किया। सम्मान लेने के दौरान दोनों भावुक भी हो गईं।

प्रकाश जाधव को मरणोपरांत कीर्ति चक्र 

वहीं कोर ऑफ इंजीनियर्स के सैपर प्रकाश जाधव को मरणोपरांत दूसरा सबसे बड़ा शांतिकालीन वीरता पुरस्कार कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया । जाधव ने जम्मू-कश्मीर में एक ऑपरेशन के दौरान आतंकवादियों को खदेड़ा था। असल में जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों को मारने के लिए सपर प्रकाश जाधव को मरणोपरांत कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उनकी पत्नी और माता को पुरस्कार सौंपा।

इन सैन्य अधिकारियों को भी मिला सम्मान

राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में पूर्वी कमांड के पूर्व कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान (सेवानिवृत्त), इंजीनियर इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल हरपाल सिंह, दक्षिणी नौसेना कमांडर वाइस एडमिरल अनिल चावला को परम विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया है। उनके अलावा पूर्वी वायु कमांडर एयर मार्शल दिलीप पटनायक को अति विशिष्ट सेवा पदक दिया गया है।

 

Todays Beets: