Friday, May 20, 2022

Breaking News

    रोडरेज मामले में सिद्धू को 1 साल कठोर कारावास की सजा, SC ने 34 साल पुराने केस में सुनाई सज़ा    ||   बिहार विधानसभा में कानून व्यवस्था को लेकर हंगामा, CPI-ML के 12 विधायकों को किया गया बाहर     ||   गौतमबुद्ध नगर के तीनों प्राधिकरणों के 49,500 करोड़ नहीं चुका रहीं रियल एस्टेट कंपनियां     ||   आंध्र प्रदेश: गुड़ी पड़वा के जश्न के दौरान भक्तों के बीच मंदिर में मारपीट, दुकानों में तोड़फोड़-आगजनी     ||   दिल्ली एयरपोर्ट पर रोके जाने के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट पहुंचीं राणा अयूब     ||   सोनिया गांधी ने बोला केंद्र पर हमला, लगाया MGNREGA का बजट कम करने का आरोप     ||   केजरीवाल के आवास पर हमला: दिल्ली HC पहुंची AAP, एसआईटी गठन की मांग की     ||   राज्यसभा जा सकते हैं शिवपाल यादव! दो दिन से जारी है बीजेपी मुलाकातों का दौर     ||   यूपी हज समिति के अध्यक्ष बने मोहसिन रजा, राज्यमंत्री का भी दर्जा मिला     ||   दिल्ली: नई शराब नीति के विरोध में BJP, पटेल नगर समेत 14 जगहों पर शराब की दुकानें की सील     ||

कुतुबमीनार के अंदर पढ़ी गई हनुमान चालीसा , हिंदू संगठनों ने नाम बदलकर विष्णु स्तंभ रखने की मांग उठाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कुतुबमीनार के अंदर पढ़ी गई हनुमान चालीसा , हिंदू संगठनों ने नाम बदलकर विष्णु स्तंभ रखने की मांग उठाई

नई दिल्ली । देश में इन दिनों लाउडस्पीकर विवाद के साथ हनुमान चालीसा पाठ को लेकर जारी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है । इस सबके बीच मंगलवार को दिल्ली की प्रसिद्ध इमारत कुतुबमीनार के अंदर हिंदू संगठन यूनाइटेड हिंदू फ्रंट ने हनुमान चालीसा पाठ किया । इस संगठन के लोगों ने न केवल कुतुबमीनार के भीतर हनुमान चालीसा का पाठ किया बल्कि इस मीनार का नाम बदलकर विष्णु स्तंभ रखने की मांग की । इस घटना के बाद एक बार फिर से सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक एक नई बहस शुरू हो गई है । यह घटनाक्रम ऐसे समय पर हुआ है , जब सुप्रीम कोर्ट में ताजमहल के नीचे के बंद 24 कमरों को खोलने संबंधी याचिका पर सुनवाई नहीं हो पाई हो । असल में ताजमहल के अस्तित्व को लेकर भी सवाल उठे हैं , जिसके बाद सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक इसे लेकर सवाल पूछे जा रहे हैं ।  

विदित हो कि इन दिनों मस्जिदों से लाउडस्पीकर के जरिए आने वाले अजान के विरोध में कई हिंदू संगठनों ने अजान के दौरान हनुमान चालीसा का पाठ करने का ऐलान किया है । जहां महाराष्ट्र में मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने उद्धव सरकार को इस मामले में चेतावनी दी , वहीं यूपी की योगी सरकार ने धार्मिक स्थलों पर लगे लाउडस्पीकरों को हटाने की अभियान चलाया । 


हालांकि इस सारे विवाद के बीच अजान के दौरान हनुमान चालीसा का पाठ करने का क्रम जारी है । इसी के तहत मंगलवार को कुतुबमीनार के भीतर यूनाइटेड हिंदू फ्रंट के कार्यकर्ताओं ने हनुमान चालीसा का पाठ किया ।  संगठन की तरफ से कहा गया कि इतिहास साक्षी है कि कुतुब मीनार वास्तव में विष्णु स्तंभ है । इस मीनार का निर्माण 27 जैन और हिंदू मंदिरों को ध्वस्त करके किया गया था । हम इस परिसर में लगी जैन और हिंदू देवी-देवताओं की मूर्तियों का जीर्णोद्धार करके सम्मान सहित स्थापित करने और हिंदुओं को यहां पूजा की अनुमति प्रदान करने की मांग करते हैं । 

 

Todays Beets: