Friday, November 27, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

भारत ने कोरोना वैक्सीन की 1.5 अरब डोज एडवांस में बुक की , अमेरिका -यूरोपियन यूनियन के बाद तीसरे नंबर पर

अंग्वाल न्यूज डेस्क

भारत ने कोरोना वैक्सीन की 1.5 अरब डोज एडवांस में बुक की , अमेरिका -यूरोपियन यूनियन के बाद तीसरे नंबर पर

नई दिल्ली । कोरोना काल के बाद अब पूरी दुनिया की निगाहें कोरोना की वैक्सीन पर टिकी हुई हैं । कई देशों में संस्थाएं अपनी वैक्सीन निर्माण के अंतिम चरण में हैं । वहीं मॉडर्ना और फाइजर ने तो वैक्सीन ट्रायल पूरे होने का दावा भी कर दिया है । दावा किया जा रहा है कि उनकी वैक्सीन 95% तक सुरक्षित है । इस सबके बीच कई कंपनियों ने इनका प्रोडक्शन भी शुरू कर दिया है । ऐसे में कई देशों ने अपने लोगों के लिए इन वैक्सीन की बुकिंग करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है । मिली जानकारी के अनुसार , भारत ने भी 150 करोड़ से अधिक डोज खरीदने के लिए एडवांस बुकिंग करा दी है । 

वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, कोविड-19 वैक्सीन डोज खरीद प्रतिबद्धता के मामले में भारत तीसरे नंबर पर है । भारत से पहले अमेरिका और यूरोपीय यूनियन का नंबर है । यह रिपोर्ट ड्यूक यूनिवर्सिटी के लॉन्च और स्केल स्पीडोमीटर इनिशिटिव पर आधारित है, जो निम्न आय वर्ग वाले देशों में हेल्थ इनोवेशन की पहुंच में बाधक बनने वाले वजहों का अध्ययन कर रहा है ।


इतना ही नहीं भारत ने भी 1.5 अरब से अधिक डोज खरीदने की पुष्टि की है । इससे पहले यूरोपीय यूनियन ने 1.2 अरब डोज और अमेरिका ने 1 अरब डोज की बुकिंग करवाई है । इससे साफ हो रहा है कि दुनिया के सबसे ताकतवर देश अपनी पूरी आबादी का एक से अधिक बार टीकाकरण करने की योजना बना रहे हैं , क्योंकि अमेरिका की जनसंख्या उनके द्वारा बुक की गई डोज से बहुत कम है । 

Todays Beets: