Friday, June 18, 2021

Breaking News

   राम मंदिर ट्रस्ट में भी उठे जमीन खरीद पर सवाल, सीएम योगी ने मांगी रिपोर्ट     ||   यूपीः बसपा से बागी हुए 9 विधायक आज अखिलेश यादव से करेंगे मुलाकात     ||   वैक्सीन विवाद पर अखिलेश यादव बोले, पहले यूपी की सारी जनता को लग जाए, फिर मैं लगवा लूंगा     ||   कांग्रेस ने चिराग को दिया न्योता, एमएलसी प्रेम चंद बोले- उनके आने से बिहार में विपक्ष मजबूत होगा     ||   बिहार में कल से एक हफ्ते तक लॉकडाउन में ढील, लेकिन नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा     ||   पाकिस्तान: आपस में दो ट्रेन टकराईं, 30 की मौत, ट्रेन में अभी भी फंसे हुए हैं बहुत से यात्री     ||   उत्तराखंड: सुनगर के पास हुआ भारी भूस्खलन, गंगोत्री हाइवे हुआ बंद, खुलने में लगेगा वक्त     ||   विवादों में आई 'Family Man 2', बैन लगाने के लिए तमिल नेताओं ने Amazon को लिखा पत्र     ||   केरलः पीटी उषा की सीएम विजयन से अपील- सभी खिलाड़ियों, उनके कोच और स्टाफ को वैक्सीनेट किया जाए     ||   इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का दावा, कोरोना की दूसरी लहर में 269 डॉक्टरों ने जान गंवाई     ||

''तीन पीढ़ियों से मेरा परिवार कांग्रेस से जुड़ा था , लेकिन अब यह व्यक्ति विशेष की क्षेत्रीय पार्टी बनकर रह गई ''

अंग्वाल न्यूज डेस्क

नई दिल्ली । कांग्रेस का दामन छोड़ भाजपा में शामिल हुए जितिन प्रसाद ने अपनी प्राथमिक सदस्यता ग्रहण करने के दौरान कहा कि कांग्रेस से मेरे परिवार की तीन पीढ़ियों का जुड़ाव रहा है , लेकिन मैंने बड़े मनन और चिंतन के साथ भारतीय जनता पार्टी के साथ जुड़ने का बड़ा फैसला लिया है । उन्होंने कहा कि आज देश में अगर कोई ऐसा दल है , जो हर किसी के विकास के लिए काम कर रहा है तो वह भाजपा की है , मैं जिस दल से आया हूं और उस जैसे अन्य दल अब सिर्फ एक व्यक्ति विशेष की पार्टी और क्षेत्रिय दल बनकर रह गए हैं । उन्होंने कहा कि अब मैं भी मोदी जी के सबका साथ सबका विकास और एक भारत श्रेष्ठ भारत के एजेंड़े के तहत एक कार्यकर्ता के तौर पर काम करूंगा । मैं ज्यादा नहीं बोलूंगा अब मेरा काम बोलेगा । 


जितिन प्रसाद ने बतौर भाजपा नेता अपने पहले संबोधन में कहा - मैं आज भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा , प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी , गृहमंत्री अमित शाह समेत समस्य भाजपा नेतृत्व का धन्यवाद करता हूं कि मुझे भाजपा में सदस्यता और सम्मान दिया । यह मेरे राजनीति जीवन का नया अध्याय शुरू हो रहा है । जैसे कि आप जानते हैं कि मेरा कांग्रेस के तीन पीढ़ियों का रिश्ता रहा है , लेकिन यह अहम फैसला मैंने बहुत विचार मंथन के बाद लिया है । आज सवाल यह नहीं है कि मैं किस दल को छोड़कर आ रहा हूं , बल्कि अहम है कि मैं किस दल में आ रहा हूं, यह मैंने आपने राजनीतिक जीवन में समझा और महसूस किया है ।

उन्होंने कहा कि आज देश में कोई एक दल है जो राष्ट्रीय दल कहलाया जा सकता है तो वह भाजपा है । बाकि दल को एक व्यक्ति की पार्टी बनकर रह गए हैं । आज के दौरान में जो दल और नेता देशवासियों की सेवा में खड़े हैं वह भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं । उन्होंने कहा कि यह दशक भारत और दुनिया के लिए अहम होगा , यह खुद मोदी जी ने कहा था लेकिन हमने महसूस किया है कि पीएम मोदी के प्रति देश की भावना क्या है । नए भारत के निर्माण लिए वो जो मुहिम चला रहे हैं , मैंने विचार किया है कि इस मुहिम में मैं उनके साथ काम करना चाहता हूं । 

पीएम मोदी ने सबका साथ सबका विकास का ध्यान रखा है । अहम बात यह है कि जिस दल में मैं था कि जिस दल में मैं था , उसमें कुछ नहीं रह गया था , अगर आप राजनीति में रहकर अपने लोगों के काम नहीं आ सकते , या आप इस लायक ही नहीं रहते कि आप अपने लोगों के हितों की रक्षा ही नहीं कर सकते तो, मैंने ऐसे दल को छोड़ने का फैसला लिया है । मैं अब समर्पित कार्यकर्ता के तौर पर भाजपा के साथ सबका साथ सबका विकास और एक भारत श्रेष्ठ भारत के आधार पर काम करूंगा । 

Todays Beets: