Sunday, July 25, 2021

Breaking News

   बिहार: पटना में अवैध टेलीफोन एक्सचेंज का भंडाफोड़, 2 गिरफ्तार     ||   जम्मू-कश्मीर: आतंकवादियों ने पुलिस कांस्टेबल की पत्नी और बेटी पर गोलियां चलाईं, दोनों जख्मी     ||   पेगासस मामला: दुनिया के 14 बड़े नेताओं की भी की गई जासूसी, PM इमरान समेत कई अन्य का लिस्ट में नाम     ||   जाकिर हुसैन मेमोरियल ट्रस्ट केस: कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद की पत्नी के खिलाफ गैर जमानती वॉरंट जारी     ||   पेगासस मामला: शिवसेना ने की जेपीसी जांच की मांग, कहा- यह हमला आपातकाल से भी बदतर     ||   महाराष्ट्र सरकार ने भी HC से कही थी ऑक्सीजन की कमी से मौत ना होने की बात- अमित मालवीय     ||   नवजोत सिंह सिद्धू के आवास पर पहुंचे 62 MLA, पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष बोले- बदलाव की बयार     ||   राम मंदिर ट्रस्ट में भी उठे जमीन खरीद पर सवाल, सीएम योगी ने मांगी रिपोर्ट     ||   यूपीः बसपा से बागी हुए 9 विधायक आज अखिलेश यादव से करेंगे मुलाकात     ||   वैक्सीन विवाद पर अखिलेश यादव बोले, पहले यूपी की सारी जनता को लग जाए, फिर मैं लगवा लूंगा     ||

''संकटमोचक'' कमलनाथ होंगे कांग्रेस के नए कार्यकारी अध्यक्ष! रणनीतिक समूह की बैठक में लग सकती है मुहर

अंग्वाल न्यूज डेस्क

नई दिल्ली । कांग्रेस में इस समय कुछ भी सही नहीं चल रहा है । पार्टी का प्रदर्शन भले ही पिछले कुछ समय में सुधरा हो , लेकिन राजस्थान, पंजाब , मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में सत्ता में आने के बाद अब गतिरोध भी नजर आया है । इस सबके बीच बुधवार को एक बड़ी खबर सामने आ रही है । सूत्रों का कहना है कि पार्टी ने आलाकमान के करीबी माने जाने वाले कमलनाथ के कंधों पर बड़ी जिम्मेदारी देने की तैयारी कर ली है । ऐसी खबर है कि कमलनाथ कांग्रेस के नए कार्यकारी अध्यक्ष बनाए जा सकते हैं । इसी क्रम में बुधवार को सोनिया गांधी समेत राहुल - प्रियंका ने चुनावी रणनीतिकार कहे जाने वाले प्रशांत किशोर से एक कांग्रेसी नेता के घर जाकर मुलाकात की है । 

सोनिया ने बुलाई संसदीय रणनीतिक समूह की बैठक

विदित हो कि पार्टी की मौजूदा स्थिति को देखते हुए कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने संसदीय रणनीतिक समूह की बैठक बुलाई है । कहा जा रहा है कि इस बैठक में कई अहम फैसले लिए जा सकते हैं । आने वाले दिनों में पार्टी को अपने अंतरिम चुनाव में भी जाना है । कई लोगों ने फिर से राहुल गांधी को पार्टी की कमान देने की मांग की है , लेकिन खुद राहुल इसके लिए तैयार नहीं है । इस बार संकेत मिल रहे हैं कि गांधी परिवार से बाहर का कोई सदस्य इस बार पार्टी की कमान संभाल सकता है । 

कमलनाथ पर टिकी निगाहें 


सूत्रों की मानें तो मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ नेता कमलनाथ (Kamal Nath) को बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है और उन्हें कांग्रेस पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष (Congress Party Working President) बनाया जा सकता है । वहीं कांग्रेस के संसदीय रणनीतिक समूह की इस बैठक में पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को कांग्रेस का स्थाई अध्यक्ष बनाया जा सकता है । विदित हो कि पार्टी के लिए कई मौकों पर कमलनाथ ने संकटमोचक की भूमिका निभाई है । इतना ही नहीं लंबे समय से वह गांधी परिवार के करीबी नेताओं में शुमार किए जाते हैं । पहले भी उनके नाम को लेकर चर्चा हो चुकी है , लेकिन पार्टी के कई नेता इस बात पर सहमत नहीं थे ।

राहुल गांधी का भी बदलेगा रोल

इस सबके साथ ही राहुल गांधी के रोल में भी बदलाव हो सकता है । ऐसी खबर है कि उन्होंने आगामी 19 जुलाई से शुरू होने वाले मानसून सत्र में राहुल गांधी को अधीर रंजन चौधरी की जगह , लोकसभा में पार्टी के नेता की जिम्मेदारी मिल सकती है । इस मुद्दे पर इस बैठक में चर्चा होनी है । इतना ही नहीं इस बात का भी आंकलन किया जाएगा कि क्या राहुल गांधी लोकसभा में पार्टी का नेतृत्व करने के लिए तैयार भी हैं या नहीं। हालांकि कुछ कांग्रेसी नेता राहुल को इस रोल के लिए ठीक नहीं मानते । दबी जुबान में उनका कहना है कि कांग्रेस के पास लोकसभा में पार्टी का नेतृत्व करने के लिए और भी अच्छे नेता हैं । इनमें मनीष तिवारी का नाम भी सामने आ रहा है । 

Todays Beets: