Thursday, February 25, 2021

Breaking News

   सरकार की सत्याग्रही किसानों को इधर-उधर की बातों में उलझाने की कोशिश बेकार है-राहुल गांधी     ||   थाइलैंड में साइना नेहवाल कोरोना पॉजिटिव, बैडमिंटन चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने गई हैं विदेश     ||   एयर एशिया के विमान से पुणे से दिल्ली पहुंची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप     ||   फिटनेस समस्या की वजह से भारत-ऑस्ट्रेलिया चौथे टेस्ट से गेंदबाज जसप्रीत बुमराह बाहर     ||   दिल्ली: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की पार्टी विधायकों के साथ बैठक, किसान आंदोलन पर चर्चा     ||   हम अपने पसंद के समय, स्थान और लक्ष्य पर प्रतिक्रिया देने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं- आर्मी चीफ     ||   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||

महाराष्ट्र की महाअघाड़ी सरकार के दरार , कांग्रेसी नेता ने सोनिया गांधी को लिखा- NCP हमें दीमक की तरह कमजोर कर रही

अंग्वाल न्यूज डेस्क
महाराष्ट्र की महाअघाड़ी सरकार के दरार , कांग्रेसी नेता ने सोनिया गांधी को लिखा- NCP हमें दीमक की तरह कमजोर कर रही

मुंबई । महाराष्ट्र में शिवसेना के नेतृत्व वाली महाअघाड़ी सरकार के सहयोगी दल कांग्रेस को साइड लाइन लगाने की साजिशों की आशंका जताई गई है । यह आशंका किसी अन्य ने नहीं बल्कि खुद महाराष्ट्र कांग्रेस के महासचिव विश्वबंधु राय ने कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर जताई है । उन्होंने अपने पत्र में लिखा - एक सोची समझी रणनीति के तहत शिवसेना और एनसीपी , जहां अपनी पार्टी को बढ़ाने में जुटी हुई हैं , वहीं कांग्रेस को नुकसान  पहुंचा रही हैं । उन्होंने कहा कि एनसीपी कांग्रेस को दीमक की तरह कमजोर कर रही है । 

बता दें कि महाराष्ट्र में शिवसेना (Shiv Sena), कांग्रेस (Congress) और एनसीपी (NCP) के महाअघाड़ी गठबंधन (Maharashtra Aghadi) में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है । मुंबई रीजनल कांग्रेस कमेटी के महासचिव विश्वबंधु राय ने सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को भेजे पत्र में लिखा है, 'सरकार में हमारे सहयोगी दल सोची समझी रणनीति बनाकर कांग्रेस को नुकसान पहुंचा रहे हैं और अपनी पार्टी को आगे बढ़ाने में लगे हुए हैं । हम इसे रोकने में असफल हो रहे हैं । साथ ही 2019 के विधान सभा चुनाव में कांग्रेस (Congress) पार्टी द्वारा किए गए चुनावी वादों पर कोई काम नहीं किया जा रहा है । पार्टी से पलायन को रोकने के लिए कुछ ठोस कदम आवश्यक हैं ।'


अपने इस पत्र में उन्होंने लिखा - महाराष्ट्र की महाअघाड़ी सरकार को लगभग एक वर्ष पूरे हो गए हैं, इस दौरान कांग्रेस पार्टी केवल एक सहयोगी के तौर पर ही नजर आ रही है । सरकार चलाने की भूमिका में शिवसेना और एनसीपी ही नजर आ रहे हैं ।  शिवसेना और एनसीपी कांग्रेस के वौट बैंक को अपनी तरफ खींचने में सफल हो रहे हैं ।  

 

Todays Beets: